स्वरा भास्कर पर आपत्तिजनक ट्वीट करने के बाद विवेक अग्निहोत्री का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक

Webdunia
सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (23:04 IST)
मुंबई। फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री का अकाउंट ट्विटर ने ब्लॉक कर दिया गया है। उन्होंने अदाकारा स्वरा भास्कर के खिलाफ आपत्तिजनक ट्वीट किया था। अग्निहोत्री ने बाद में अपना ट्वीट वापस ले लिया। भास्कर ने केरल के विधायक पीसी जॉर्ज की निंदा की थी। विधायक ने उस नन के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जो उसके साथ बलात्कार करने वाले बिशप की गिरफ्तारी की मांग कर रही है।
 
 
अदाकारा ने ट्वीट किया था- 'बेहद शर्मनाक एवं घृणित। भारत में राजनीतिक धारा और धार्मिक विभाजन में मौजूद घोटाला। एकदम बकवास।' इस पर अग्निहोत्री ने जवाब देते हुए लिखा- '#मीटू की तरह यौन शोषण और यौन उत्पीड़न के खिलाफ अभियान की तख्ती कहां है #मीटूप्रॉस्टिट्यूटनन।'
 
इसके बाद अदाकारा और फिल्मकार के बीच ट्विटर पर वाकयुद्ध शुरू हो गया और भास्कर ने ट्विटर अधिकारियों से अग्निहोत्री की पोस्ट को लेकर शिकायत कर दी। शिकायत पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्विटर ने कहा कि हमने उस अकाउंट का आकलन किया जिसकी आपने शिकायत की थी। हमने उसे ट्विटर नियमों के खिलाफ पाया और उसे ब्लॉक कर दिया है।
 
बाद में स्वरा ने ट्विटर का आभार व्यक्त करते हुए उस ट्वीट का स्क्रीनशॉट दिया जिसे अग्निहोत्री ने डिलीट किया। (भाषा)

पाक गोलाबारी में महिला की मौत, तीन जवान जख्मी

क्यों होता है लिवर खराब, विशेषज्ञ की खास सलाह

यदि आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है तो अपनाएं यह प्रक्रिया...

बहुत कम हिन्दू जानते हैं महाभारत के योद्धाओं के ये 7 गुप्त रहस्य

शिक्षक दिवस पर प्रेरक कहानी : शब्दों का प्रभाव

सम्बंधित जानकारी

आपत्तिजनक कंटेंट को यूजर्स के रिपोर्ट करने से पहले ही हटाने पर काम कर रहा है फेसबुक

सावधान, उत्तर कोरिया ने किया नए हाई-टेक हथियार का परीक्षण

मुसीबत में फंस सकते हैं बल्क में साड़ी, कपड़े खरीदने और बेचने वाले

Intelligence Bureau में नौकरी करना चाहते हैं तो जल्दी करें, 1000 से ज्यादा पद

स्मार्ट फोन की बैटरी बचाती है यह तरकीब, गूगल ने बताई

सीरिया में 30 बच्चों की मौत, नहीं टला युद्ध का खतरा, संयुक्‍त राष्‍ट्र ने जताया शोक

नीमच में 23 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर, जावद में त्रिकोणीय संघर्ष के आसार

राजस्थान में एक भी मुस्लिम को भाजपा का टिकट नहीं, कांग्रेस ने 9 उम्‍मीदवारों पर लगाया दांव

मध्यप्रदेश में भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र की प्रमुख बातें...

दिल्ली से खाली हाथ लौटे उपेंद्र, फिर नहीं हुई शाह से मुलाकात

अगला लेख