लिबिया हिंसा में नेवी ने जिसे बचाया, उसी ने मैनचेस्टर में ले ली 22 लोगों की जान

मंगलवार, 31 जुलाई 2018 (21:00 IST)
लंदन। ब्रिटिश नेवी भी यह यकीन नहीं कर पा रही होगी कि जिस शख्स को उसने हिंसा से बचाया, वही व्यक्ति 22 लोगों की जान ले लेगा। मैनचेस्टर में पिछले साल एक पॉप कंसर्ट में हमला करने वाले आत्मघाती हमलावर को ब्रिटिश नौसेना ने 3 साल पहले हिंसाग्रस्त लीबिया से बचाया था।
 
हमले की जांच को लेकर मंगलवार को आई एक रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है। मैनचेस्टर में हुए उस हमले में 22 लोगों की मौत हो गई थी। डेली मेल समाचार-पत्र के मुताबिक अगस्त 2014 में लीबियाई मूल के ब्रिटिश व्यक्ति सलमान अबेदी और उनके परिवार को नौसेना का जहाज एचएमएस इंटरप्राइज वहां से निकालकर माल्टा ले गया था। ये लोग उन 110 ब्रिटिश नागरिकों में शामिल थे, जिन्हें ब्रिटिश नौसेना ने बचाया था।
 
मई 2017 में उत्तरी-पश्चिमी इंग्लैंड के मैनचेस्टर में एरियाना ग्रैंड द्वारा आयोजित किए गए एक कंसर्ट की समाप्ति के बाद मैनचेस्टर अरेना के बाहर तब 22 वर्षीय हमलावर ने खुद को बम से उड़ा लिया था। उस हमले में 22 लोगों की जान चली गई थी, जिनमें 7 बच्चे शामिल थे।
 
एक सरकारी सूत्र ने समाचार-पत्र को बताया कि जिस व्यक्ति ने ब्रिटेन में इतने घातक हमले को अंजाम दिया था, उसे हमने लीबिया से बचाया था। खबर के मुताबिक लीबिया में वर्तमान में रह रहा उसका भाई हाशिम अबेदी मैनचेस्टर हमले को लेकर चल रही जांच के घेरे में है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING