Wimbledon 2018 : 36 साल की मम्मी सेरेना विलियम्स को एंजेलिक केर्बर की चुनौती

गुरुवार, 12 जुलाई 2018 (21:49 IST)
लंदन। सात बार की चैंपियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स ने विध्वंसक प्रदर्शन करते हुए जर्मनी की जूलिया जॉर्जिस को गुरुवार को 6-2, 6-4 से हराकर विम्बलडन टेनिस चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश कर लिया, जहां उनके सामने पूर्व नंबर एक जर्मनी की एंजेलिक केर्बर की चुनौती होगी।
 
केर्बर ने तूफानी प्रदर्शन करते हुए लात्विया येलेना ओस्तापेंको को अन्य सेमीफाइनल में एकतरफा अंदाज में 6-3, 6-3 से हराकर दूसरी बार फाइनल में जगह बनाई। 36 साल की सेरेना मां बनने के बाद अपने पहले ग्रैंड स्लैम खिताब की तलाश में हैं। 
 
यहां 25वीं वरीयता प्राप्त सेरेना आठवें खिताब के लिए केर्बर से मुकाबला करेंगी। सेरेना ने जॉर्जिस को मात्र 70 मिनट हराकर जर्मन खिलाड़ी के खिलाफ अपना करियर रिकॉर्ड 3-0 पहुंचा दिया है और इस जीत के साथ उन्होंने जॉर्जिस के खिलाफ कोई सेट न हारने का रिकॉर्ड भी बरकरार रखा।
 
अपना 35वां ग्रैंड स्लैम और विम्बलडन में 11वां सेमीफाइनल खेल रहीं सेरेना ने जर्मन खिलाड़ी को हराकर इस ग्रास कोर्ट चैंपियनशिप में अपनी 92वीं जीत दर्ज की। इससे पहले 30 वर्षीय केर्बर को अपनी प्रतिद्वंद्वी की गलतियों का भरपूर फायदा मिला। 12वीं सीड ओस्तापेंको ने आक्रामक खेलने की कोशिश में लगातार बेजां भूलें कीं और 11वीं सीड केर्बर को एक के बाद एक अंक दिए।
 
पहले सेट में 3-3 की बराबरी पर मुकाबले में संघर्ष दिखाई दे रहा था, लेकिन ओस्तापेंको ने फोरहैंड बाहर मारकर अपनी सर्विस गंवा दी जिसके बाद मैच उनके हाथ से फिसलता चला गया। उन्होंने सेट अंक पर डबल फाल्ट किया और केर्बर ने पहला सेट 6-3 से जीत लिया। केर्बर ने इस सेट में दो बार ओस्तापेंको की सर्विस तोड़ी और यह सेट 34 मिनट में निपटाया।
  
केर्बर ने दूसरे सेट में बातों-बातों में 5-1 की बढ़त बना ली। हालांकि ओस्तापेंको ने वापसी करने की कोशिश की, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। केर्बर ने दूसरा सेट भी 6-3 से जीत कर मैच मात्र 68 मिनट में समाप्त कर दिया। ओस्तापेंको का यह पहला विम्बलडन सेमीफाइनल था, लेकिन वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर सकीं। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
अपने सपनों के जीवनसंगी को ढूँढिये भारत मैट्रिमोनी पर - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन !

LOADING