डॉलर के मुकाबले गिरा रुपया, बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, बढ़ेगी महंगाई...

Webdunia
सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (11:29 IST)
नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपया सोमवार को एक बार फिर से भारी गिरावट के साथ खुला है। इसके बाद पेट्रोल और डीजल के दाम और बढ़ सकते हैं। डॉलर के मुकाबले रुपया सोमवार को 45 पैसे टूटकर 72.18 के स्तर पर खुला है।


पिछले कारोबारी दिवस रुपया 71.73 के स्तर पर बंद हुआ था। डॉलर के मुकाबले रुपए के 72 के स्तर पार पहुंचने का असर क्रूड के आयात पर हो सकता है। भारत अपनी जरूरत का 80 प्रतिशत से ज्यादा क्रूड आयात करता है। ऐसे में डॉलर की कीमतें बढ़ने से इनके इंपोर्ट के लिए ज्यादा कीमत चुकानी होगी।

इंपोर्ट महंगा होगा तो ऑइल मार्केटिंग कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ा सकती हैं। इसका सीधा असर खाने-पीने की चीजों पर पड़ता है। खाने-पीने की चीजों और दूसरे जरूरी सामानों के ट्रांसपोर्टेशन के लिए डीजल का इस्तेमाल होता है। ऐसे में डीजल महंगा होते ही इन सारी जरूरी चीजों के दाम बढ़ेंगे।

अगर पेट्रोलियम उत्पाद महंगे हुए तो पेट्रोल-डीजल के साथ-साथ साबुन, शैंपू, पेंट इंडस्ट्री की लागत बढ़ेगी, जिससे ये उत्पाद भी महंगे हो सकते हैं। ऑटो इंडस्ट्री की लागत बढ़ेगी। साथ ही डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से माल ढुलाई का खर्च भी बढ़ने का डर रहता है। इससे सीधा असर महंगाई पर होता है। 

ब्रिटेन में भारतीय मूल की गर्भवती महिला की तीर लगने से मौत, बच्चे को बचाया

कच्चे तेल में गिरावट का असर, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार 11वें दिन कमी

इंदौर में कांग्रेस को बड़ी राहत, प्रीति अग्निहोत्री और मोती पटेल नाम वापस लेने को राजी

बाल दिवस विशेष : गुम हो रहा है बचपन, आखिर कौन है जिम्मेदार?

शिक्षक दिवस पर प्रेरक कहानी : शब्दों का प्रभाव

सम्बंधित जानकारी

Intelligence Bureau में नौकरी करना चाहते हैं तो जल्दी करें, 1000 से ज्यादा पद

स्मार्ट फोन की बैटरी बचाती है यह तरकीब, गूगल ने बताई

नवजात को दूध पिला रही थी मां, बंदर ने छीनकर मार डाला...

अद्वितीय राजनीतिज्ञ थे पंडित जवाहरलाल नेहरू...

रहमान ने बॉयोग्राफी में खोले राज, 25 साल की उम्र में आते थे खुदकुशी के ख्याल

ट्रंप बोले, मैं प्रधानमंत्री मोदी का बहुत सम्मान करता हूं

सीआईएनटीएए ने अभिनेता आलोक नाथ को निष्कासित किया

डोनाल्ड ट्रंप का तीखा हमला, अमेरिका के बिना बर्बाद हो जाता फ्रांस

इंदौर में कांग्रेस को बड़ी राहत, प्रीति अग्निहोत्री और मोती पटेल नाम वापस लेने को राजी

फिनटेक में मोदी बोले, भारत में वित्तीय क्रांति, 130 करोड़ लोगों की जिंदगी बदल रही है

अगला लेख