हिन्‍दू शब्द को अछूत और असहनीय बनाने की कोशिश कर रहे हैं कुछ लोग : वेंकैया नायडू

Webdunia
सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (11:13 IST)
शिकागो। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को कहा कि कुछ लोग हिंदू शब्द को अछूत और असहनीय बनाने की कोशिश कर रहे हैं।


उन्होंने हिन्‍दू धर्म के सच्चे मूल्यों के संरक्षण की जरूरत पर जोर दिया, ताकि ऐसे विचारों और प्रकृति को बदला जा सके जो गलत सूचनाओं पर आधारित हैं। यहां दूसरी विश्व हिन्‍दू कांग्रेस को संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि भारत सार्वभौमिक सहनशीलता में विश्वास करता है और सभी धर्मों को सच्चा मानता है।

हिन्‍दू धर्म के अहम पहलुओं को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि साझा करना और ख्याल रखना हिन्‍दू दर्शन के मूल तत्व हैं। नायडू ने अफसोस जताया कि (हिन्‍दू धर्म के बारे में) काफी गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं।

उन्होंने कहा, कुछ लोग हिन्‍दू शब्द को ही अछूत और असहनीय बनाने की कोशिश कर रहे हैं। लिहाजा, व्यक्ति को विचारों को सही परिप्रेक्ष्य में देखकर प्रस्तुत करना चाहिए ताकि दुनिया के सामने सबसे प्रामाणिक परिप्रेक्ष्य पेश हो पाए। (भाषा)

डरे और थके हुए प्रधानमंत्री का हताशा और घबराहट भरा भाषण

जानिए क्या है आयुष्मान भारत योजना, कैसे मिलेगा आपको इसका लाभ

कार्टून 'डकटेल्स' आ रहा है वापस (वीडियो)

कहानी : अपनी तुलना दूसरों से न करें

प्रदूषण पर हिन्दी में निबंध

सम्बंधित जानकारी

व्हाइट हाउस पर हमले की साजिश, युवक गिरफ्तार, एफबीआई की थी गतिविधियों पर नजर

ट्रंप ने 3 अहम पदों पर भारतीय मूल के नागरिकों को किया नामांकित

सोशल मीडिया पर उठा सवाल, क्या धोनी से बेहतर फिनिशर हैं पीएम मोदी...

खतरे में स्टार्ट अप इंडिया अभियान, स्टार्टअप समूह ने पीएम मोदी से की यह कर समाप्त करने की मांग

कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग पर बीआरओ ने किया यह बड़ा काम, व्यास घाटी में तैनात सैनिकों को भी होगा फायदा

RSS का मोदी सरकार से सवाल- क्‍या अयोध्‍या में राम मंदिर 2025 में बनेगा?

1 करोड़ से ज्‍यादा लोगों को मिला सरकार की इस योजना का लाभ...

BSF में खराब खाने का वीडियो वायरल करने वाले जवान तेज बहादुर के बेटे की संदिग्ध परिस्थिति में मौत

सरकार बनाएगी राष्ट्रीय कारोबार रजिस्टर, देशभर के उपक्रमों का होगा ब्‍योरा

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, सरकार सभी वर्गों को समान अवसर देने के लिए प्रतिबद्ध

अगला लेख