तेज प्रताप परिवार की शांति हेतु करा रहे 'शत्रु हंता यज्ञ', घर लौटने की रखी बड़ी शर्त, डिप्रेशन में लालू

शुक्रवार, 9 नवंबर 2018 (12:52 IST)
पटना। राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव घर लौट सकते हैं, लेकिन उन्होंने परिवार के सामने एक बड़ी शर्त रखी है। तेज प्रताप ने कहा कि उन्‍होंने तलाक की जो अर्जी फाइल की है, उसपर परिवार साथ दें। वे पत्‍नी ऐश्‍वर्या की मीठी-मीठी बातों में आने वाले नहीं हैं।
 
 
यह बात उन्होंने एक निजी चैनल से कही। उन्होंने कहा कि उनकी छोटी सी बात अगर माता-पिता मान लें तो वे घर लौट आएंगे। मेरी बात मानने के लिए कोई तैयार नहीं है।
 
 
तेज प्रताप ने कहा कि परिवार में लड़ाई-झगड़े हद पार कर गए थे। वह (पत्‍नी) मेरे लिए गंदे शब्‍द बोलती थी। वो अपनी जिंदगी में मस्‍त रहें, मैं अपनी जिंदगी में मस्‍त रहूं। हमने सोच-समझकर तलाक का फैसला लिया है। यह अटल है।
 
 
तेज प्रताप ने कहा कि वे परिवार के साथ हैं, लेकिन ऐश्‍वर्या के साथ रहना नहीं चाहते। उन्‍होंने घर में घुसे किसी विपिन नामक व्‍यक्ति के प्रति नाराजगी जताई तथा कहा कि वह उनके दोस्‍तों को बुलाकर प्रताड़ित कर रहा है। यह बर्दाश्‍त से बाहर है।
 
 
तेज प्रताप अभी हरिद्वार में हैं। उन्‍होंने माना कि कृष्‍ण अर्जुन से नाराज नहीं हैं, लेकिन एक दुर्योधन है जो अर्जुन व कृष्‍ण के बीच में आ गया है। तेज प्रताप ने कहा कि पार्टी में भी गुंडे-मवाली घुस गए हैं। उन्‍हें भी बाहर करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि कुछ दुर्योधन लगे हुए हैं, लेकिन वे अपने अर्जुन (तेजस्‍वी) से दूर नहीं हैं। परिवार वालों से भी उनकी बात हो रही है। पिता लालू प्रसाद यादव से भी बात हुई है। वे ठीक हैं।
 
 
तेज प्रताप फिलहाल वृंदावन में घर-परिवार की शांति के लिए 'शत्रु हंता यज्ञ' करा रहे हैं। उन्‍होंने फोन कर तेजस्‍वी को आज जन्‍मदिन की बधाई दी है। दोनों भाइयों में लंबी बातचीत हुई है। सूत्र बताते हैं कि तेजस्‍वी ने बड़े भाई को बहुत समझाया, उन्‍हें परिवार वालों की हालत से अवगत कराया। संभव है इसका असर तेज प्रताप पर पड़े और कोई शुभ समाचार मिले। हालांकि, उन्‍होंने फिलहाल घर वापसी से इनकार कर दिया है। वे चाहते हैं कि घरवाले पहले उनके तलाक की बात मान लें, तब वे लौटेंगे।
 
 
इस बीच पटना स्थित लालू-राबड़ी आवास पर सन्‍नाटा पसरा है। राबड़ी देवी ने बीते साल कहा था कि वे घर में बहु के आने के बाद छठ व्रत करेंगी। बहु आई भी, लेकिन छठ के पहले तलाक का झमेला खड़ा हो गया है। इससे व्‍यथित राबड़ी देवी ने कहा है कि अब वे छठ नहीं करेंगी। वे छठ तभी करेंगी, जब दोनों बेटे घर पर साथ रहेंगे।
 
 
मां राबड़ी देवी ने ट्वीट कर तेजस्‍वी यादव को जन्‍मदिन की शुभकामनाएं देते हुए दोनों भाइयों को मिलकर रहने की सलाह दी है। उन्‍होंने लिखा है कि दोनों अपने हाथों प्रदेश के विकास तथा महिला सुरक्षा को एक नई बुलंदी देंगे, ऐसी अपेक्षा है।
 
 
इस घटनाक्रम का असर रांची के जेल में बंद तथा फिलहाल अस्‍पताल में इलाज करा रहे बीमार लालू प्रसाद यादव की सेहत पर पड़ा है। अस्‍पताल सूत्रों के अनुसार वे रातभर जगे करवट बदलते देखे जा रहे हैं। उनका ब्‍लड सुगर लेवल नियंत्रण के बाहर चला जा रहा है। वे डिप्रेशन में जा रहे हैं। (एजेंसी)
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING