काम आईं लोगों की दुआएं, बोरवेल से सलामत निकली सना

गुरुवार, 2 अगस्त 2018 (00:08 IST)
मुंगेर। जिले में मंगलवार शाम को 110 फुट गहरे बोरवेल में गिरी तीन साल की सना को बुधवार रात 9.35 बजे सकुशल बाहर निकाल लिया गया। करीब 31 घंटे बाद सना बोरवेल से बाहर आई। सना अपने ननिहाल आई हुई थी, जहां घर के आंगन में एक बोरवेल में गिर गई थी बोरवेल में सना को जिंदा रखने के लिए ऑक्सीजन पहुंचाई गई थी। 
 
दो दिन पहले ही सना अपने पिता के साथ नाना उमेश नंदन साह के घर आई थी। पुलिस प्रशासन ने एनडीआरएफ की टीम को बुलावा भेजा। बच्ची को बोरबेल से निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीम को भी बुलाया गया था।  आईटीसी के चेयरमैन वाइपी सिंह ने घटनास्थल पर आधुनिकतम लाइट की व्यवस्था की थी ताकि 110 फुट गहरे बोरबेल में गिरी बच्ची की पल-पल की स्थिति पर नजर रखी जा सके। 
 
सन्नो को सुरक्षित निकालने के लिए एनडीआरएफ व एसडीआरएफ की टीम को लगाया गया था। साथ ही पूरे प्रशासनिक महकमे ने इस ऑपरेशन को सफल बनाने में अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। एक ओर जहां विद्यालयों से लेकर मंदिर, मजिस्द, गुरुद्वारे में सना को सकुशल बाहर निकलने के लिए दुआएं की जा रही थीं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING