केरल में बाढ़ के बाद नई मुसीबत, सूख रहे हैं नदियां और कुएं

Webdunia
बुधवार, 12 सितम्बर 2018 (18:42 IST)
तिरुवनंतपुरम। बाढ़ प्रभावित केरल में तापमान बढ़ने के साथ नदियों और कुओं के अप्रत्याशित तौर पर सूखने की खबरों ने राज्य सरकार को फिक्रमंद कर दिया है। सरकार ने बाढ़ के बाद के घटनाक्रम पर वैज्ञानिक अध्ययन कराने का निर्णय किया है। विशेषज्ञों ने सैलाब के बाद कई जिलों में सूखा पड़ने की आशंका व्यक्त की है।
 
 
मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने राज्य विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण परिषद को घटनाक्रम का अध्ययन करने और समस्या का संभावित समाधान बताने का निर्देश दिया है। सनद रहे कि 20 मई के बाद से केरल में अब तक बाढ़ से मरने वालों का आंकड़ा 491 तक पहुंच चुका है।
पिछले महीने बाढ़ आने के बाद तापमान का बढ़ना, अप्रत्याशित तौर पर नदियों का जलस्तर घटना, अचानक से कुओं का सूखना, भूजल, जलाशयों में गिरावट आना और केंचुओं के सामूहिक खात्मे समेत कई मुद्दों ने केरल के विभिन्न हिस्सों को चिंतित किया है।
 
सैलाब ने समृद्ध जैवविविधता के लिए मशहूर वायनाड जिले को तबाह कर दिया। बड़े पैमाने पर केंचुओं के मरने से किसान चिंतित हैं, क्योंकि उनका मानना है कि इस वजह से धरती तेजी से सूख रही है और मृदा की संरचना में बदलाव हो रहा है।
 
पेरियार, भारतपुझा, पंपा और कबानी समेत कई नदियां बाढ़ के दिनों में उफान पर थीं लेकिन अब उनका जलस्तर असामान्य तौर पर घट रहा है। कुओं के सूखने के अलावा उनके ढहने की भी खबरें हैं। बाढ़ ने कई स्थानों पर भूमि की स्थलाकृति बदल दी है और खासतौर पर इदुक्की और वायनाड जैसे ऊंचाई वाले इलाकों में जमीन में किलोमीटर लंबी दरारें आ गई हैं।
 
विशेषज्ञों ने सैलाब के बाद कई जिलों में सूखा पड़ने की आशंका व्यक्त की है। विजयन ने फेसबुक पर डाले गए एक पोस्ट में कहा कि जलस्तर में गिरावट, भूजल में परिवर्तन और जमीन में पड़ीं दरारों के अध्ययन का काम जल संसाधन प्रबंधन केंद्र को सौंपा गया है।

गुजरात में 500 करोड़ का फर्जी जीएसटी बिल घोटाला

अमित शाह को महंगी पड़ी मालदा रैली, तबीयत फिर बिगड़ी

पाकिस्तान में बस हादसे में 27 लोगों की मौत

अगर आपके घर भी हैं ये 5 चीजें तो तुरंत बदल डालें, आपको कंगाल बना सकती हैं ये गलतियां

छोटी सी राई हर संकट को रोके, पढ़ें 5 बड़े काम के टोटके

सम्बंधित जानकारी

अब आसानी से बनेगा पासपोर्ट, शुरू होगी इलेक्ट्रॉनिक चिप आधारित ई-पासपोर्ट सेवा

#10YearsChallenge : खेल नहीं सबसे 'बड़ा धोखा', क्या आपने भी सोशल मीडिया कर किया था कुछ पोस्ट?

अमेरिकी एक्सपर्ट के दावों से आया भूचाल, गोपीनाथ मुंडे की मौत को जोड़ा हैकिंग से...

राफेल से जुड़े महत्वपूर्ण कागज अन्ना हजारे के पास, कहा- प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में करेंगे बड़ा ऐलान...

हाई रिटर्न के लिए सोने में कब और कैसे निवेश करें

नशे में विमान अपहरण का प्रयास, चालक दल को दी धमकी, अफगानिस्तान ले जाना चाहता था विमान

नेपियर में भारत और न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला वनडे, इन 5 खिलाड़ियों पर होगी सबकी नजर

रूसी जलसीमा में दो पोतों में आग लगी, 14 की मौत

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, हिंदू महिला की मुस्लिम पुरुष से शादी वैध नहीं, लेकिन उनकी संतान जायज

राष्ट्रपति कोविंद ने 26 बच्चों को राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा

अगला लेख