भारतीय नौसेना ने ऑफशोर गैस रिसाव को रोकने में ओएनजीसी की मदद की

रूना आशीष

सोमवार, 23 जुलाई 2018 (00:03 IST)
मुंबई। भारतीय नौसेना केवल समुद्र की ही रखवाली नहीं करती बल्कि जरूरत पड़ने पर वह दूसरों की मदद के लिए सदैव मदद रहती है। रविवार के दिन भारतीय नौसेना को ऑफशोर ओएनजीसी फ्लेटफॉर्म एस 1-6 पर एक गैस रिसाव की सूचना दी गई थी। 
 
चूंकि ओएनजीसी क्षेत्र हेलिकॉप्टर  प्रतिकूल मौसम की स्थिति के कारण मिशन पूरा नहीं कर सके, इसलिए भारतीय नौसेना से सहायता के लिए अनुरोध किया गया। भारतीय नौसेना ने ओएनजीसी तकनीकी टीम को स्थानांतरित करने के लिए सीकिंग 42सी हेलिकॉप्टर र का उपयोग किया। यही नहीं उसने गैस रिसाव को रोकने के लिए ओएनजीसी की मदद भी की। 
दरसल भारतीय नौसेना के हेलिकॉप्टर को इस मिशन को पूरा करने के लिए काफी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों का सामना करना पड़ा क्योंकि इसमें 30 से अधिक समुद्री मील की मजबूत और गहरी हवाएं शामिल थीं। 
इस मिशन में भारतीय नौसेना के मरम्मत दल को अपूर्ण अपतटीय प्लेटफॉर्म पर हेलीपैड के छोटे आकार के कारण जूझना भी पड़ा लेकिन उसके इस साहसिक मिशन की वजह से संभावित खतरा भी टल गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING