चुनाव के लिए छत्तीसगढ़ भाजपा ने बदली रणनीति

विधानसभा चुनाव 2018 के लिए छत्तीसगढ़ बीजेपी ने अपनी चुनावी रणनीति में बड़ा परिवर्तन किया है। पार्टी ने अब अटलजी के चेहरे पर विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी शुरू कर दी है। अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद पार्टी ने प्रदेश में चल रहे अपने चुनावी अभियान को अटलजी पर केंद्रित कर दिया है।
 
नई रणनीति के तहत अब प्रदेश में बीजेपी ने सरकार और संगठन दोनों ही स्तर पर अपने कार्यक्रम को अटलजी पर केन्द्रित कर लिया है। बात पहले सरकार की। चुनाव से ठीक पहले छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं को बताने और लोगों को सौगात देने के लिए जो विकास यात्रा चल रही थी अब उसका दूसरा चरण अटल विकास यात्रा के नाम से चलेगा। 
 
वहीं पार्टी ने संगठन स्तर पर अपनी चुनावी रणनीति में बड़ा बदलाव करते हुए अब चुनावी घोषणा पत्र को अटल दृष्टि पत्र नाम देने की तैयारी कर ली है। अटल दृष्टि पत्र में अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों के छत्तीसगढ़ की तस्वीर उकेरी जाएगी। दृष्टि पत्र में प्रदेश में बीजेपी के सत्ता संभालने यानी 2003 के बाद से अब तक प्रदेश के विकास के पथ पर चलने और आगे के सफर की योजनाओं की झलक भी दिखाई देगी। इसके साथ ही पार्टी अब नए सिरे से ऐसे चुनावी कार्यक्रम तैयार कर रही है जिसमें अटलजी को छत्तीसगढ़ के राज्य निर्माता के तौर पर पेश किया जाएगा। 
 
पंचायत और निकाय स्तर पर होने वाले श्रद्धांजलि कार्यक्रम के जरिए पार्टी अटलजी के विचारों को लोगों को बताएगी। इसके साथ ही सरकार ने हर जिला मुख्यालय अटलजी की प्रतिमा को लगाने का निर्णय लिया है। हर पंचायत और निकाय में पार्टी अटलजी को केंद्रित कर कार्यक्रम शुरू करने जा रही है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING