अलवर में सात माह की बच्ची के दुष्कर्मी को फांसी की सजा

शनिवार, 21 जुलाई 2018 (20:58 IST)
अलवर। सात माह की बच्ची से दुष्कर्म के आरोपी को एससी/एसटी कोर्ट के जज जगेन्द्र अग्रवाल ने शनिवार को फांसी की सजा सुनाई। यह घटना 10 मई की है।  
 
यह मामला इसलिए महत्वपूर्ण है कि जज अग्रवाल ने तेजी से सुनवाई कर 2 माह 11 दिन के भीतर मात्र 22 कार्य दिवसों में ही निर्णय दे दिया।
 
मामला लक्ष्मणगढ़ थाना क्षेत्र के हरसाना गांव का है, जहां 10 मई की रात को दुधमुही बालिका अपनी मां के साथ सोई हुई थी। देर रात वह अपनी नेत्रहीन जेठानी के पास बच्ची को सोता छोड़ पानी लेने घर के अंदर चली गई। इसी दौरान गांव का ही पिंटू जोतगी उसे चुपके से उठाकर पास ही मिडिल स्कूल के खेल के मैदान में ले गया और मासूम के साथ दुष्कर्म किया। 
 
बाद में आरोपी गंभीर हालत में बच्ची को छोड़कर फरार हो गया। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर आसपास‌ के लोग घटनास्थल पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। बाद में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING