पश्चिम बंगाल का नाम बदल कर होगा ‘बांग्ला’, विधानसभा में प्रस्ताव पारित

गुरुवार, 26 जुलाई 2018 (15:23 IST)
पश्चिम बंगाल का नाम बदल कर सभी भाषाओं में अब बांग्ला होगा। पश्चिम बंगाल की विधानसभा ने गुरुवार को राज्य का नाम बदलने का प्रस्ताव पारित कर दिया। अब प्रस्ताव केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा जाएगा। गृह मंत्रालय अगर इसे हरी झंडी दे देता है, तो पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बांग्ला हो जाएगा।
 
 
इसके पहले राज्य सरकार ने नाम बदलने का प्रस्ताव विधानसभा में 29 अगस्त, 2016 को पारित किया था। प्रस्ताव में पश्चिम बंगाल का नाम बदल कर अंग्रेजी में ‘बंगाल’, बंगाली में ‘बांग्ला’ और हिंदी में ‘बंगाल’ करने का प्रस्ताव भेजा गया था लेकिन केंद्र सरकार ने तीन नामों के सुझाव को खारिज कर दिया था।
 
केंद्र सरकार की आपत्ति थी कि एक ही राज्य के नाम तीन अलग-अलग भाषाओं में अलग-अलग नहीं हो सकते हैं। राज्य सरकार को किसी एक नाम का चयन करना होगा। उसके बाद राज्य सरकार ने पश्चिम बंगाल का नाम परिवर्तित कर ‘बांग्ला’ करने का निर्णय लिया।
 
इस बाबत प्रस्ताव गुरुवार को विधानसभा में पेश किया गया। इससे पहले पिछले साल आठ सितंबर को राज्य कैबिनेट की बैठक में एक प्रस्ताव को मंजूरी मिल चुकी है। गुरुवार के प्रस्ताव के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय अगर इसे मान लेता है तो पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बांग्ला हो जाएगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING