सुरक्षाबलों ने और 5 आतंकी मार डाले, एक सप्ताह में 17 आतंकी ढेर

श्रीनगर। कश्मीर के कुलगाम जिले में मुठभेड़ के बाद सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच संघर्ष में शनिवार को एक नागरिक की मौत हो गई और 10 अन्य घायल हो गए। मुठभेड़ में 5 आतंकवादी मारे गए थे। सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में पिछले एक सप्ताह में 17 आतंकियों को ठोंक डाला है। 5 को शनिवार सुबह मार डाला। शनिवार को मारे गए 5 आतंकियों में हिज्बुल मुजाहिदीन का टॉप का आतंकी गुलजार पदार भी शामिल है।
 
कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों ने 'ऑपरेशन ऑलआउट' के तहत मुठभेड़ में 5 आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। शनिवार सुबह चौगाम इलाके में चले इस अभियान में ये सभी आतंकी मारे गए। सूत्रों के अनुसार एनकाउंटर में हिज्बुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर गुलजार पद्दार भी मारा गया है। वॉन्टेड आतंकी कमांडर गुलजार की सुरक्षाबलों को काफी समय से तलाश थी। वो पाकिस्तान के इशारे पर घाटी में लंबे वक्त से आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता आ रहा था।
 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि चौगाम में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने शनिवार सुबह इलाके की घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि घिर जाने पर आतंकियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। जिसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें 5 आतंकवादी मारे गए।
 
जानकारी के अनुसार सुरक्षाबलों को रात करीब 12.30 बजे पता चला कि चौगाम में कुछ आतंकी छिपे हुए हैं। इसके बाद सेना और पुलिस के संयुक्त दस्ते ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के छिपे होने के संदेह में कुछ राउंड फायर किए। इसके जवाब में आतंकियों ने भी फायरिंग शुरू कर दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आईआईडी बलास्ट कर उस घर को धराशायी कर दिया गया है जिनमें आतंकवादी छिपे हुए हैं।
 
कुलगाम में ढेर हुए सभी पांचों आतंकवादियों की पहचान हो गई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने उनकी शिनाख्त गुलजार अहमद पाडर, फैसल अहमद राठेर, जाहिद अहमद मीर, मसरूर मौलवी और जहूर अमद लोन के रूप में की है। इस बीच पुलिस का कहना है कि मुठभेड़ के बाद कानून-व्यवस्था के हालात को देखते हुए बारामुला और काजीगुंड के बीच ट्रेन सेवा को सस्पेंड किया गया है। मुठभेड़ के बाद घाटी में कानून और व्यवस्था की दिक्कतों की आशंकाओं के कारण रेल सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। एहतियात के तौर पर बारामूला-काजीगुंड के बीच ट्रेन सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं।
 
बता दें कि जम्मू-कश्मीर में बीते सिर्फ 48 घंटों में ही में अलग-अलग जगहों पर हुई मुठभेड़ में 13 आतंकवादी मारे गए हैं जबकि एक सप्ताह में मरने वालों का आंकड़ा 17 है। इनमें से एक मुठभेड़ में पुलिस, अर्द्धसैनिक बल और सेना के 21 कर्मी घायल हो गए। मारे गए 13 आतंकवादियों में से 3 पाकिस्तानी थे।
 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि कुलगाम के काजीगुंड के चौगाम क्षेत्र में आतंकवाद विरोधी अभियान में लगे सुरक्षा बलों और युवकों के समुह के बीच संघर्ष हो गया। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले, पैलेट और गोलियां चलाईं। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 10 से अधिक लोग घायल हो गए और उन्हें इलाज के लिए अनंतनाग के जिला अस्पताल ले जाया गया। घायलों में से 6 लोगों को यहां के अस्पताल में भेजा गया है। उनमें से 4 की आंख में छर्रे लगे हैं।
 
उन्होंने बताया कि इस दौरान अनंतनाग जिले के रहने वाले रऊफ अहमद ने संगम के नजदीक रास्ते में दम तोड़ दिया। सुबह से शुरू हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा और हिज्बुल मुजाहिदीन के 5 आतंकवादियों को मार गिराया गया। इसमें से एक आतंकवादी पिछले साल कैश वैन पर हुए घातक हमले में शामिल था जिसमें 5 पुलिसकर्मी और 2 बैंक के गार्ड ने अपनी जान गंवाई थी।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING