रामलीला मैदान पर दिल्ली में महाभारत

शनिवार, 25 अगस्त 2018 (13:46 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली के रामलीला मैदान का नाम बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री 'भारत रत्न' अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने की खबरें आ रही हैं। खबरों के मुताबिक, उत्तरी एमसीडी के 4-5 सदस्यों ने प्रस्ताव दिया है। उत्तरी एमसीडी में 30 अगस्त को प्रस्ताव पर चर्चा होगी।


आम आदमी पार्टी ने इसका विरोध शुरू कर दिया है। उधर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि रामलीला मैदान का नाम बदलने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

तिवारी ने कहा कि कुछ लोग जानबूझकर भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम हम सबके आराध्य हैं। इसलिए रामलीला मैदान का नाम बदलने का कोई सवाल ही नहीं है।

रामलीला मैदान का नाम बदलने पर अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर भाजपा पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि रामलीला मैदान इत्यादि के नाम बदलकर अटलजी के नाम पर रखने से वोट नहीं मिलेंगे, भाजपा को प्रधानमंत्रीजी का नाम बदल देना चाहिए। तब शायद कुछ वोट मिल जाएं, क्योंकि अब उनके अपने नाम पर तो लोग वोट नहीं दे रहे हैं।

केजरीवाल के ट्‍वीट पर भी मिलीजुली प्रतिक्रियाएं देखने को मिलीं। एक व्यक्ति ने ट्‍वीट कर लिखा कि BJP ने राम के नाम पर राजनीति शुरू की, वोट मांगा और आज राम नाम को हटाकर अटल नाम रखने जा रही है। दिल्ली के रामलीला मैदान का नाम बदलकर अटलजी के नाम पर रखा जाएगा। जो काम मुगलों ने नहीं किया वो BJP कर रही है।

एक अन्य व्यक्ति ने केजरीवाल पर कटाक्ष करते हुए लिखा कि किस दुनिया में जी रहे हो सरजी, मोदी के नाम पर अगर वोट नहीं दे रहे लोग तो सारा विपक्ष क्यों एक हो रहा है? आप आजकल कुछ भी बोलने लगे हो। एक अन्य व्यक्ति ने लिखा कि शायद मोदीजी को लगने लगा है कि अब राम के नाम पर वोट नहीं मिलेंगे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING