नरेन्द्र मोदी नहीं होंगे भारत के अगले प्रधानमंत्री, ज्योतिषी का दावा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की सुगबुगाहट के बीच एक ज्योतिषी ने दावा किया है आगामी लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा सत्ता में तो आएगी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नहीं होंगे। 
 
महाराष्ट्र के अमरावती शहर में आयोजित सम्मेलन में मध्यप्रदेश के ओंकारेश्वर ज्योतिष विश्वविद्यालय के अध्‍यक्ष और ज्योतिषाचार्य डॉ. भूपेश गाडगे ने दावा किया कि अगले लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा किसी तरह सत्ता में तो लौटेगी, लेकिन नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं होंगे। गाडगे का दावा है कि भाजपा इस बार 2014 वाला करिश्मा नहीं दोहरा पाएगी। वह अकेले दम सरकार भी नहीं बना पाएगी, इसके लिए उसे कई अन्य दलों का साथ लेना होगा। 
 
हालांकि ज्योतिषियों का यह भी मानना है कि चुनाव के बाद मोदी प्रधानमंत्री बन भी सकते हैं, लेकिन नवंबर 2019 तक गठबंधन की मजबूरियों के चलते उन्हें पद से हटना पड़ सकता है। दावे के मुताबिक मोदी के बाद नितिन गडकरी प्रधानमंत्री पद की कुर्सी पर आसीन हो सकते हैं। ज्योतिषियों के मुताबिक महाराष्ट्र में शिवसेना की ताकत बढ़ेगी। 
 
बात में दम तो है : ज्योतिषियों की भविष्यवाणी के इतर यदि राजनीतिक रूप से भी देखें तो अभी से यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि भाजपा 2014 का करिश्मा नहीं दोहरा पाएगी। मायावती और अखिलेश के गठबंधन के चलते उसे यूपी में ही 30-40 सीटों का नुकसान हो सकता है। साथ ही मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और गुजरात में भी उसे घाटा उठाना पड़ेगा। 
 
महाराष्ट्र में यदि शिवसेना मजबूत बनकर उभरती है तो निश्चित ही मतभेदों के चलते मोदी के नाम पर सहमत नहीं होगी। क्योंकि इन दिनों भाजपा और शिवसेना के रिश्ते अच्छे नहीं है। उद्धव ठाकरे खुलकर मोदी की आलोचना करते हैं।

आपको बता दें कि जिस समय प्रतिभा पाटिल राष्ट्रपति बनी थीं, उस समय शिवसेना ने भाजपा से अच्छे संबंध होने के बावजूद राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार पाटिल का साथ दिया था। उस समय पाटिल का मुकाबला एनडीए के भैरोंसिंह शेखावत से था। ऐेसे में कोई आश्चर्य नहीं कि शिवसेना मोदी के बजाय गडकरी के साथ दे।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING