हिंदू न खाएं बकरी का मांस, नेताजी के पड़पोते के ट्वीट पर बवाल

शनिवार, 28 जुलाई 2018 (15:12 IST)
नेताजी सुभाषचंद्र बोस के पड़पोते और भाजपा नेता चंद्र कुमार बोस ने बीफ (गोमांस) बैन पर तंज कसते हुए कहा कि अगर लोगों को बीफ खाने पर मारा जाता है तो उन्हें बकरी खाना भी छोड़ देना चाहिए। 
 
बोस ने ट्वीट किया- 'अगर लोगों को बीफ खाने पर मारा जाता है, तो उन्हें बकरी खाना भी छोड़ देना चाहिए। उन्होंने कहा कि गांधीजी मेरे दादा शरतचंद्र बोस के घर कोलकाता के वुडबर्नपार्क में रुका करते थे। वह गाय का दूध मांगते थे, इसी उद्देश्य से घर में दो बकरियां लाई गई थी। गांधीजी भी बकरी का दूध पिया करते थे। अगर आप बकरी का दूध पीते हैं तो उसे माता मानों। हिंदुओं बकरी का मांस खाना बंद करों।
 
भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के उपाध्‍यक्ष बोस के इस ट्वीट पर त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत राय ने सख्‍त आपत्ति दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि न तो आपके परदादा ने और न महात्मा गांधी ने कभी कहा कि वह हिंदुओं के संरक्षक है। हम हिंदू गाय को माता मानते हैं बकरी को नहीं। कृपया कर ऐसा न करें।
 
इस पर बोस ने कहा कि मेरे इस ट्वीट को बारीकी से समझा जाए पूरा देश इस तरह की हिंसा और लिंचिंग की घटनाओं से स्तब्ध है।
 
उन्होंने कहा कि अगर आप बीफ खाने पर लोगों पर हमले करेंगे तो बकरी का गोश्‍त खाना भी छोड़ना होगा क्‍योंकि गांधी जी उसका दूध पीते थे। अगर आप बकरी का दूध पीते हैं तो उसे माता का दर्जा दीजिए। धर्म को राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING