टीवी के जरिए होगी आप पर सरकार की नजर

सोमवार, 16 अप्रैल 2018 (17:56 IST)
नई दिल्ली। सरकार की नजर अब लोगों के टीवी सेट पर भी पहुंचने वाली है। सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने ट्राई (टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया) के पास जो नया प्रस्ताव भेजा है, उसमें कहा गया है कि टीवी में लगने वाले नए सेट-टॉप बाक्स में एक चिप लगाई जाएगी। सरकार का दावा है कि इससे टीवी दर्शकों की सही संख्या का पता लग सकेगा।
 
जबकि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि विज्ञापन दाताओं के हितों को देखते हुए यह फैसला किया जा रहा है। अभी तक टीवी के दर्शकों के जो आंकड़े सरकार को मिलते हैं वे बीआरसी (ब्रॉडकास्ट आडियंस रिसर्च काउंसिल) के जरिए पहुंचते हैं, लेकिन माना जा रहा है कि ये आंकड़े सही नहीं हैं। 
 
सरकार का कहना है कि विज्ञापन दाताओं व डीएवीपी (डायरेक्टरेट ऑफ एडवरटाइजिंग एंड विजुअल पब्लिसिटी) को टीवी दर्शकों की सही संख्या का पता नहीं लग पाता जिससे वे हमेशा असमंजस की स्थिति में होते हैं। चिप लगने के बाद यह पता लगाना बेहद आसान रहेगा कि अमुक दर्शक ने कौन सा चैनल कब देखा और कितनी देर। इससे विज्ञापन दाता अपने फायदे के हिसाब से फैसला ले सकेगा। 
 
सरकारी अधिकारियों का यह भी कहना है कि दूरदर्शन की दर्शक संख्या को लेकर भी भ्रम की स्थिति है। चिप से मिला डाटा सही तस्वीर को सामने रखेगा। ट्राई को भेजे प्रस्ताव में कहा गया है कि इसके तहत डीटीएच ऑपरेटरों को कहा जाएगा कि वे सेट-टॉप बाक्स में एक चिप लगाएं। ट्राई का कहना है कि सरकार ने उनके पास इस आशय का प्रस्ताव भेजा है। 
 
हालांकि सरकार ने पहले भी इस तरह की सिफारिश की थी लेकिन तब मंत्रालय को कहा गया था कि यह एक नया मुद्दा है और इसके लिए ट्राई एक्ट 1997 के तहत अलग से प्रस्ताव भेजा जाए तभी उस पर विचार होगा। लेकिन बीआरसी ने कहा है कि ट्राई व सरकार के दिशानिर्देश के तहत वह टीवी दर्शकों के जो आंकड़े जुटाती है, उसमें पारदर्शिता बरती जाती है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
अपने सपनों के जीवनसंगी को ढूँढिये भारत मैट्रिमोनी पर - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन !

LOADING