जम्मू-कश्मीर और हरियाणा के झज्‍जर में भूकंप के झटके, जान-माल का नुकसान नहीं

Webdunia
बुधवार, 12 सितम्बर 2018 (10:12 IST)
श्रीनगर। जम्मू कश्मीर और हरियाणा के झज्जर में बुधवार की सुबह मध्यम स्तर के भूकंप के झटके महसूस किए गए। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 05.15 बजे आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.6 मापी गई। भूकंप का केंद्र लद्दाख क्षेत्र में कारगिल के उत्तर में 199 किलोमीटर की दूरी पर रहा। फिलहाल भूकंप से किसी प्रकार के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।


खबरों के मुता‍बिक, जम्मू-कश्मीर और हरियाणा के झज्जर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। दरअसल, जम्मू-कश्मीर में सुबह 5.15 बजे भूकंप के झटके महसूस हुए, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.6 की तीव्रता मापी गई। वहीं हरियाणा के झज्जर में सुबह 5.43 बजे भूकंप के झटके महसूस हुए, जिसकी तीव्रता 3.1 मापी गई। भूकंप के इन झटकों से लोग सहम उठे और अपने घरों से निकल गए, हालांकि अभी तक इन झटकों से किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

इससे पहले 10 सितंबर को उत्तर प्रदेश के मेरठ और दिल्ली सहित समूचे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। अमेरिका के जियोलॉजिकल सर्वे ने भी इसकी पुष्टि की थी। हालांकि उसमें भी किसी के हताहत होने की खबर नहीं थी। इसी तरह 9 सितंबर को भी हरियाणा के झज्जर जिले में झटके महसूस किए गए थे, जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.8 आंकी गई थी।

भूकंप आए तो बरतें सावधानी : भूकंप आने के बाद बरती गईं सावधानियां आपकी जान बचा सकती है। यदि आप घर से बाहर हैं तो ऊंची इमारतों, बिजली के खंभों आदि से दूर रहें। जब तक झटके खत्म न हों, बाहर ही रहें। चलती गाड़ी में होने पर जल्द गाड़ी रोक लें और गाड़ी में ही बैठे रहें। ऐसे पुल या सड़क पर जाने से बचें, जिन्हें भूकंप से नुकसान पहुंचा हो। भूकंप आने के वक्त यदि आप घर में हैं तो फर्श पर बैठ जाएं। मज़बूत टेबल या किसी फर्नीचर के नीचे पनाह लें। टेबल न होने पर हाथ से चेहरे और सिर को ढंक लें। घर के किसी कोने में चले जाएं और कांच, खिड़कियों, दरवाज़ों और दीवारों से दूर रहें। बिस्तर पर हैं तो लेटे रहें, तकिए से सिर ढंक लें। आसपास भारी फर्नीचर हो तो उससे दूर रहें।

गणतंत्र दिवस पर हिन्दी दोहे

अजीत डोभाल के रोचक-रोमांचक किस्से

अगर आपके घर भी हैं ये 5 चीजें तो तुरंत बदल डालें, आपको कंगाल बना सकती हैं ये गलतियां

पायरिया के 3 प्रमुख कारण और 12 उपाय

शरीर छोड़ने के बाद आत्मा कहां पहुंच जाती है, जानिए रहस्य

सम्बंधित जानकारी

K9 वज्र पर सवार हुए पीएम मोदी, देश की पहली तोप जिसे भारतीय प्राइवेट सेक्टर ने बनाया...

नरेन्द्र मोदी सरकार ने पूरा किया पाकिस्तान का सपना

अं‍तरिम बजट में मोदी सरकार दे सकती है ये बड़े तोहफे

राफेल सौदे पर दाम बढ़ाने संबंधी रिपोर्ट 'बकवास' : अरुण जेटली

सवारी गाड़ियों के स्‍थान पर रेलवे चला सकती है मेमू ट्रेन, जानिए क्या है इसकी रफ्तार

मप्र : भावांतर योजना को लेकर आमने-सामने कमलनाथ-शिवराज, आंदोलन की चेतावनी

EVMs : 'साजिश' का शिकार तो नहीं हुए थे भाजपा नेता गोपीनाथ मुंडे, भतीजे ने की रॉ से जांच कराने की मांग

देर रात गर्माई मप्र की सियासत, शिवराज से मिलने पहुंचे 'महाराज', जानिए क्या हुई बात...

पीएम मोदी में समा गया है विपक्ष की एकता का 'डर', शिवसेना ने साधा निशाना...

EVM पर साइबर विशेषज्ञ के दावे ‘गंभीर’, निष्पक्ष जांच होनी चाहिए : कांग्रेस

अगला लेख