सवर्ण आंदोलन का समर्थन कर रहे कथाकार देवकीनंदन ठाकुर को हिरासत में लिया

Webdunia
मंगलवार, 11 सितम्बर 2018 (18:05 IST)
लखनऊ। SC-ST एक्ट के खिलाफ सवर्ण आंदोलन का समर्थन कर रहे कथाकार देवकीनंदन ठाकुर को मंगलवार शाम उस समय हिरासत में ले लिया गया जब वे प्रेस वार्ता कर रहे थे। हालांकि बाद में उन्हें मुचलके पर छोड़ दिया गया। 
 
जानकारी के अनुसार ठाकुर को आगरा के कमलानगर स्थित एक होटल से गिरफ्तार किया गया था। एएसपी हरिपर्वत ने बताया कि ठाकुर पर धारा 151 के तहत कार्रवाई की गई है। उन्हें खंदौली में सभा करने की अनुमति नहीं दी गई थी।
 
ठाकुर ने अपनी गिरफ्तारी को लोकतंत्र की हत्या निरूपित किया है। उन्होंने कहा कि प्रेस को पूछना चाहिए कि उन्हें क्यों हिरासत में लिया गया। गौरतलब है कि ठाकुर की आगरा के खंदौली में सभा प्रस्तावित थी, लेकिन प्रशासन द्वारा इसकी अनुमति नहीं दी गई। सभा की अनुमति न मिलने पर उन्होंने होटल में प्रेसवार्ता आयोजित की थी। इसी दौरान उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।
 
प्रशासन को थी बवाल की आशंका : बताया जा रहा है कि प्रशासन ने खंदौली में एससीएसटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ होने वाली ठाकुर की जनसभा में बवाल की आशंका थी। इससे पूर्व खंदौली के सेमरा गांव में रविवार को महापंचायत के आयोजन को लेकर पुलिस और आयोजकों में नोक-झोंक हुई थी। बवाल की आशंका के चलते ही प्रशासन ने इलाके में धारा 144 लगा दी।

किस करते वक्त इसलिए पति की जीभ काट दी

राहुल गांधी को मिला पाकिस्‍तान का समर्थन, फवाद के बाद पूर्व गृहमंत्री मलिक का ट्वीट

यूसी ब्राउजर का भारतीय बाजार में नया वर्जन लांच

किस वार को जन्मे हैं आप? जानिए वार अनुसार अपना स्वभाव...

भारती सिंह और उनके पति हर्ष अस्पताल में भर्ती

सम्बंधित जानकारी

चौंकाने वाली रिपोर्ट, शराब पीने से हर साल होती है 30 लाख लोगों की मौत

अब जियो टीवी पर देख सकेंगे क्रिकेट मैच

खुशखबर, नौकरी जाने पर मिलेगा पैसा, मोदी सरकार की नई योजना

जेट एयरवेज में नहीं मिलेगा मुफ्त भोजन

जान लीजिए वह 16 कारण जिनसे लगता है पितृ दोष...

शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया 29 पैसे गिरा

अब चीन की सीमा के पास उतर सकेंगे एयरफोर्स के विमान

मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की गोली मारकर हत्या, ड्राइवर को भी मारा

स्विट्जरलैंड के दूसरे प्रांत में भी बुर्के पर लगा प्रतिबंध

कांगो में विद्रोहियों का हमला, 14 नागरिकों की मौत

अगला लेख