क्या किसानों के लिए आवाज उठाने वालों पर आयकर का छापा डलवाएगी सरकार?

गुरुवार, 12 जुलाई 2018 (13:41 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस ने स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव के रिश्तेदार के अस्पताल पर हुई छापेमारी की निंदा करते हुए सवाल किया कि क्या सरकार यह संदेश दे रही है कि किसानों के हित के लिए आवाज उठाने वालों के खिलाफ वह छापे डलवाएगी।
 
पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने ट्वीट कर कहा, 'क्या सरकार संदेश दे रही है कि अगर आप किसानों के हितों की बात करेंगे तो वह आपके यहां आयकर का छापा डलवायेगी?'
 
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यादव के रिश्तेदार के यहां हुई छापेमारी की निंदा करते हुए कहा, 'प्रतिशोध के इस रवैये की निंदा करता हूं। यह बहुत शर्मनाक और चिन्ताजनक है कि योगेंद्र यादव के परिवार को आयकर के छापे से धमकाया गया है।'
 
उन्होंने सवाल किया कि क्या सरकार यह बताएगी कि नीरव मोदी की कंपनी से 20 लाख रुपए के जेवरात खरीदने के लिए कितने लोगों के यहां छापेमारी की गई?
 
दरअसल, आयकर विभाग ने हरियाणा के रेवाड़ी में योगेंद्र यादव के रिश्तेदार के अस्पताल समूह के विभिन्न परिसरों में छापेमारी कर करीब 22 लाख रुपए नकद बरामद किए हैं। इससे पहले यह सूचना मिली थी कि अस्पताल समूह ने गहने खरीदने के लिए नीरव मोदी की फर्म को नकद भुगतान किया था।
 
दूसरी तरफ, यादव ने बुधवार को ट्वीट कर दावा किया था, 'मोदी सरकार अब मेरे परिवार को निशाना बना रही है। रेवाड़ी में किसानों को फसल की अच्छी कीमत दिलाने और शराब की दुकानों के खिलाफ मेरी नौ दिनों की पदयात्रा के दो दिन बाद मेरी बहन के अस्पताल पर आयकर विभाग ने छापा मारा है। मेरी बहन का अस्पताल- नर्सिंग होम रेवाड़ी में है। कृपया मेरी तलाशी लो, मेरे घर की लो, लेकिन मेरे परिवार को क्यों निशाना बना रहे हो?' (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
अपने सपनों के जीवनसंगी को ढूँढिये भारत मैट्रिमोनी पर - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन !

LOADING