हेलीकॉप्टर मामले में पूर्व वायुसेना प्रमुख त्यागी और अन्य को जमानत

Webdunia
बुधवार, 12 सितम्बर 2018 (15:14 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने अगस्तावेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले से जुड़े धनशोधन के एक मामले में वायुसेना के पूर्व प्रमुख एसपी त्यागी तथा अन्य की जमानत बुधवार को मंजूर कर ली।


विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने इस मामले में त्यागी और उनके रिश्तेदारों को एक लाख रुपए की जमानत राशि और उतनी ही राशि का मुचलका भरने को कहा। उन्हें यह जमानत तब दी गई जब वे अपने खिलाफ जारी समन पर अदालत में पेश हुए।

अदालत ने इस मामले में 24 जुलाई को अगस्तावेस्टलैंड और फिनमेक्कानिका के पूर्व निदेशकों ग्यूसेप ओरसी तथा ब्रूनो स्पैगनोलिनी, त्यागी तथा अन्य आरोपियों को तलब किया था। अदालत ने अरोपियों को बुधवार को उसके समक्ष पेश होने के निर्देश दिए थे।

इसके साथ ही इटली के बिचौलिए कार्लो गेरोसा तथा गुइडो हश्के और दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना के खिलाफ नए गैर जमानती वारंट जारी किए थे। इन छह के अलावा अदालत ने 28 भारतीयों और विदेशी व्यक्तियों तथा कंपनियों को आरोपी के तौर पर तलब किया था। इनमें वकील गौतम खेतान, अगस्तावेस्टलैंड और इसकी मूल कंपनी फिनमेक्कानिका एसपीए शामिल हैं।

अदालत ने आरोप पत्र पर संज्ञान लेते हुए निर्देश जारी करते हुए कहा कि करीब दो करोड़ 80 लाख यूरो के कथित धनशोधन मामले में आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। हालांकि विदेशी व्यक्ति और कंपनियां बुधवार को अदालत के समक्ष पेश नहीं हुईं। (भाषा) 

फुल गारंटी! क्या आप कल्याण सट्‍टे का नंबर जानना चाहेंगे...

हिन्दी निबंध : झांसी की रानी लक्ष्मीबाई

मजबूत गढ़ में भी मुश्किल में भाजपा, जानिए क्या है वजह...

14 जनवरी को मकर संक्रांति, क्या जीवन में लाएगी शांति, पढ़ें 12 राशियां

बगैर तकिया लगाए सोना है फायदेमंद, ये रहे 5 फायदे

सम्बंधित जानकारी

आपत्तिजनक कंटेंट को यूजर्स के रिपोर्ट करने से पहले ही हटाने पर काम कर रहा है फेसबुक

सावधान, उत्तर कोरिया ने किया नए हाई-टेक हथियार का परीक्षण

मुसीबत में फंस सकते हैं बल्क में साड़ी, कपड़े खरीदने और बेचने वाले

Intelligence Bureau में नौकरी करना चाहते हैं तो जल्दी करें, 1000 से ज्यादा पद

स्मार्ट फोन की बैटरी बचाती है यह तरकीब, गूगल ने बताई

सीरिया में 30 बच्चों की मौत, नहीं टला युद्ध का खतरा, संयुक्‍त राष्‍ट्र ने जताया शोक

नीमच में 23 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर, जावद में त्रिकोणीय संघर्ष के आसार

राजस्थान में एक भी मुस्लिम को भाजपा का टिकट नहीं, कांग्रेस ने 9 उम्‍मीदवारों पर लगाया दांव

मध्यप्रदेश में भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र की प्रमुख बातें...

दिल्ली से खाली हाथ लौटे उपेंद्र, फिर नहीं हुई शाह से मुलाकात

अगला लेख