बंद के दौरान मप्र में सपाक्स ने दिखाई ताकत, भाजपा का खेल बिगाड़ने की तैयारी

विशेष प्रतिनिधि
भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनाव से ठीक पहले बीजेपी की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। एक और जहां SC-ST एक्ट को लेकर भारत बंद में बीजेपी के मंत्रियों, सांसदों और विधायकों को विरोध का सामना करना पड़ा, वहीं बंद के दौरान राज्य में नए राजनीतिक दल के तौर पर दस्तक देने जा रहे संगठन सपाक्स ने अपनी ताकत दिखा दी।

सपाक्स के कार्यकर्ताओं ने हर जिले में सड़क पर उतरकर अपना विरोध जताया, वहीं सामान्य वर्ग के सबसे बड़े संगठन के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले सपाक्स ने राज्य की सभी 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। सपाक्स ने एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को चुनावी मुद्दा बना लिया है।

संगठन हर जिले में सभा कर बीजेपी सरकार को सामान्य वर्ग का विरोधी बता रहा है। वेबदुनिया से बातचीत में संगठन के संरक्षक और पूर्व आईएएस अधिकारी हीरालाल ने कहा कि एट्रोसिटी एक्ट चुनाव में उनका मुख्य मुद्दा रहेगा। इसके साथ ही मध्यप्रदेश में प्रमोशन में रिजर्वेशन को लेकर भी सपाक्स चुनाव में बीजेपी को घेरेगी।

 
सपाक्स पहले ही इस मुद्दे को लेकर शिवराज सरकार की नीयत पर सवाल उठा चुका है, वहीं चुनावी साल में सपाक्स के कार्यकर्ताओं ने पहले ही कई जिलों में राजनीतिक दलों के विरोध और बीजेपी और कांग्रेस उम्मीदवार को वोट न देने के बोर्ड लगा दिए हैं। संगठन ने चुनावी ताल ठोंकते हुए राजनीतिक दल के तौर पर संगठन के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन दे दिया है, वहीं संगठन ने अपने चुनावी मेनिफेस्टो की तैयारी शुरू कर दी है।

Pulwama attack : कश्मीर में 14 सालों बाद बीएसएफ की तैनाती, कुछ बड़ा होने वाला है...

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' देखने जाने वाले सैलानियों के लिए 4 मार्च से विशेष ट्रेन

रीवा जिले के दो गांव उजाड़ने के आदेश

श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर से कहा था जरूर रखें घर में यह 5 चीजें, जानिए क्या हैं वे वस्तुएं

सत्यवती ने पराशर ऋषि से 'सुहागरात' मनाने की रखी थीं ये शर्तें

सम्बंधित जानकारी

आतंकवाद पर गरजे पीएम मोदी, यह बात करने का नहीं, कड़े एक्शन लेने का समय

कर्मचारी भविष्य निधि के तहत न्यूनतम मासिक पेंशन बढ़ाने का फैसला टला

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को सता रहा है भारत के जवाबी हमले का डर...

आसानी से जान सकते हैं कि आपका आधार PAN CARD से जुड़ा या नहीं, जानिए प्रक्रिया...

बड़ा खुलासा, डराने वाले हैं कश्मीर के ये हालात, थोड़े सजग होते तो बच जाते 40 बहादुर जवान...

सिपाही के साहस को सलाम, रेलवे ट्रेक पर घायल यात्री को कंधों पर लेकर डेढ़ किलोमीटर दौड़कर बचाई जान

क्या होने वाला है भारत-पाक युद्ध, जानिए कश्मीर की अफवाहों का सच...

आर्टिकल 35-ए पर सु‍नवाई से पहले अलगाववादी नेता हिरासत में, जानिए क्या है आर्टिकल 35-ए, क्यों मचा है बवाल...

मोदी गोरखपुर से करेंगे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की शुरुआत

AirIndia विमान को हाईजैक कर पाकिस्तान ले जाने की धमकी..., हाई अलर्ट

अगला लेख