कांग्रेस ने वापस लिया फरमान, दावेदारों को नहीं देनी होगी सोशल मीडिया की जानकारी

Webdunia
शनिवार, 8 सितम्बर 2018 (13:23 IST)
भोपाल। आगामी विधानसभा के लिए टिकट दावेदारों में हड़कंप मचने के बाद कांग्रेस ने वह फरमान वापस ले लिया है, जिसमें कहा गया था कि टिकट के दावेदारों को सोशल मीडिया पर सक्रिय होना जरूरी है।

माना जा रहा है कि इस फरमान से उपजे असंतोष के बाद पार्टी ने इसे वापस लेने में ही अपनी भलाई समझी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता चंद्रप्रभाष शेखर ने पत्र लिखकर पुराने आदेश को वापस लेने की बात कही है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया से संबंधित मेरे द्वारा 2 सितंबर को प्रेषित पत्र निरस्त किया जाता है।

शेखर के इस पत्र के बाद टिकट के कई दावेदारों ने राहत की सांस ली है, जो सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय नहीं हैं। हालांकि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शोभा ओझा ने पहले भी स्पष्ट किया था कि ऐसा जरूरी नहीं है कि जो नेता सोशल मीडिया पर सक्रिय नहीं हैं, उन्हें टिकट नहीं मिले।

पहले क्या कहा था पार्टी ने : चंद्रप्रभाष शेखर द्वारा पूर्व में जारी पत्र में कहा गया था कि टिकट के दावेदारों के फेसबुक पेज पर 15,000 लाइक और ट्विटर पर 5000 फॉलोअर होने चाहिए। साथ ही कहा गया था कि सभी के पास बूथ लेबल के लोगों के व्हाट्सअप ग्रुप भी होने चाहिए।

पत्र के अनुसार, कांग्रेस के पदाधिकारियों, वर्तमान विधायकों और टिकट के दावेदारों को 15 सितंबर 2018 तक ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सऐप की जानकारी मध्यप्रदेश कांग्रेस के सोशल मीडिया और आईटी डिपार्टमेंट में उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए थे। 

जानिए नारदजी के हवा में उड़ने की शक्ति का राज! (वीडियो)

ब्रिटेन में भारतीय मूल की गर्भवती महिला की तीर लगने से मौत, बच्चे को बचाया

अफगानिस्तान में आतंकवादी हमला, 29 पुलिस अधिकारियों समेत 35 मरे

बाल दिवस विशेष : गुम हो रहा है बचपन, आखिर कौन है जिम्मेदार?

शिक्षक दिवस पर प्रेरक कहानी : शब्दों का प्रभाव

सम्बंधित जानकारी

Intelligence Bureau में नौकरी करना चाहते हैं तो जल्दी करें, 1000 से ज्यादा पद

स्मार्ट फोन की बैटरी बचाती है यह तरकीब, गूगल ने बताई

नवजात को दूध पिला रही थी मां, बंदर ने छीनकर मार डाला...

अद्वितीय राजनीतिज्ञ थे पंडित जवाहरलाल नेहरू...

रहमान ने बॉयोग्राफी में खोले राज, 25 साल की उम्र में आते थे खुदकुशी के ख्याल

फिनटेक में मोदी बोले, भारत में वित्तीय क्रांति, 130 करोड़ लोगों की जिंदगी बदल रही है

ब्रिटेन में भारतीय मूल की गर्भवती महिला की तीर लगने से मौत, बच्चे को बचाया

चुनाव सामग्री में क्यों हो रहा प्लॉस्टिक का उपयोग, हाईकोर्ट ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब

जब तक हम जिंदा हैं, संघ पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता : उमा भारती

राफेल सौदा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज अहम सुनवाई

अगला लेख