कांग्रेस ने वापस लिया फरमान, दावेदारों को नहीं देनी होगी सोशल मीडिया की जानकारी

Webdunia
शनिवार, 8 सितम्बर 2018 (13:23 IST)
भोपाल। आगामी विधानसभा के लिए टिकट दावेदारों में हड़कंप मचने के बाद कांग्रेस ने वह फरमान वापस ले लिया है, जिसमें कहा गया था कि टिकट के दावेदारों को सोशल मीडिया पर सक्रिय होना जरूरी है।

माना जा रहा है कि इस फरमान से उपजे असंतोष के बाद पार्टी ने इसे वापस लेने में ही अपनी भलाई समझी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता चंद्रप्रभाष शेखर ने पत्र लिखकर पुराने आदेश को वापस लेने की बात कही है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया से संबंधित मेरे द्वारा 2 सितंबर को प्रेषित पत्र निरस्त किया जाता है।

शेखर के इस पत्र के बाद टिकट के कई दावेदारों ने राहत की सांस ली है, जो सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय नहीं हैं। हालांकि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शोभा ओझा ने पहले भी स्पष्ट किया था कि ऐसा जरूरी नहीं है कि जो नेता सोशल मीडिया पर सक्रिय नहीं हैं, उन्हें टिकट नहीं मिले।

पहले क्या कहा था पार्टी ने : चंद्रप्रभाष शेखर द्वारा पूर्व में जारी पत्र में कहा गया था कि टिकट के दावेदारों के फेसबुक पेज पर 15,000 लाइक और ट्विटर पर 5000 फॉलोअर होने चाहिए। साथ ही कहा गया था कि सभी के पास बूथ लेबल के लोगों के व्हाट्सअप ग्रुप भी होने चाहिए।

पत्र के अनुसार, कांग्रेस के पदाधिकारियों, वर्तमान विधायकों और टिकट के दावेदारों को 15 सितंबर 2018 तक ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सऐप की जानकारी मध्यप्रदेश कांग्रेस के सोशल मीडिया और आईटी डिपार्टमेंट में उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए थे। 

जिसने भी यह हादसा देखा सिहर गया, खंभे से टकराकर कट गया महिला का सिर (वीडियो)

कमलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा का 'हल्लाबोल', भोपाल में मुख्यमंत्री का जलाया पुतला

हिन्दी निबंध : झांसी की रानी लक्ष्मीबाई

अगर आपके घर भी हैं ये 5 चीजें तो तुरंत बदल डालें, आपको कंगाल बना सकती हैं ये गलतियां

महाभारत की ये अद्भुत महिलाएं, जिनके आगे नहीं चलती थी किसी की भी

सम्बंधित जानकारी

K9 वज्र पर सवार हुए पीएम मोदी, देश की पहली तोप जिसे भारतीय प्राइवेट सेक्टर ने बनाया...

नरेन्द्र मोदी सरकार ने पूरा किया पाकिस्तान का सपना

अं‍तरिम बजट में मोदी सरकार दे सकती है ये बड़े तोहफे

राफेल सौदे पर दाम बढ़ाने संबंधी रिपोर्ट 'बकवास' : अरुण जेटली

सवारी गाड़ियों के स्‍थान पर रेलवे चला सकती है मेमू ट्रेन, जानिए क्या है इसकी रफ्तार

मौसम अपडेट : पहाड़ों पर भारी बर्फबारी से इन राज्यों में बढ़ सकती है ठंड

पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारा प्रस्ताव का मसौदा भारत के साथ किया साझा

पाकिस्तान में बस हादसे में 24 लोगों की मौत

मौलवी ने 3 साल की बच्ची से किया दुष्‍कर्म, गिरफ्तार

प्रदर्शनी में लगी 'हिन्दू-विरोधी' पेंटिंग, विवाद बढ़ने पर कॉलेज ने मांगी माफी

अगला लेख