शिवराज का बड़ा बयान, दिग्विजय मजबूर मुख्यमंत्री थे

रविवार, 5 अगस्त 2018 (23:42 IST)
नीमच। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे मजबूर मुख्यमंत्री थे, जिनके पास विकास की बजाय विनाश का एजेंडा था, लेकिन वे मजबूत मुख्यमंत्री है जिन्होंने प्रदेश बीमारू स्थिति से निकालकर विकासशील बनाया।
 
चौहान ने जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान यहां एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सिंह के पास न तो विकास का नजरिया था और न ही नीयत थी। इसलिए 10 वर्षों में उन्होंने राज्य को गड्ढों और अंधरों का राज्य बना दिया था। देश के पिछड़े राज्यों में ले जाकर खड़ा कर दिया था।
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 50 साल तक प्रदेश में हुकूमत चलाई लेकिन राज्य और जनता के विकास के बजाय पतन की स्थितियां ही बना कर रख दी थी।
 
चौहान ने कहा कि पिछले तीन चुनावों में प्रदेश की जनता ने भाजपा को आशीर्वाद दिया। हमने सरकार में रहते हुए हर मोर्चे पर प्रदेश को विकासशील श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया है। आम जनता का जीवन स्तर ऊंचा हुआ है और हर प्रकार की सुविधाएं सुलभ करवाई जा रही है।
 
उन्होंने जनता से अनुरोध किया कि अब राज्य को समृद्ध राज्य बनाने के लिए वृहद कार्यक्रम तैयार किया गया है और आने वाले चुनाव में पुनः आशीर्वाद देकर भाजपा की सरकार बनाएं जिससे हम जन-जन की खुशहाली के संकल्प को साकार कर सकें। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING