जनपद सीईओ के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत शिकायत, विरोध गरमाया...

Webdunia
शुक्रवार, 7 सितम्बर 2018 (19:59 IST)
सतना। एट्रोसिटी एक्ट को लेकर जहां देशभर में विरोध की लहर छिड़ी हुई है, सवर्ण जाति के लोग इस कानून के खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं, वहीं इस बीच सतना जिले की जनपद पंचायत सोहावल के सीईओ के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत थाना आजाक में शिकायत दर्ज कराई गई है। 'स्वच्छ भारत मिशन' के समन्वयक ने उनके खिलाफ शिकायत की है।
 
 
बताया जा रहा है कि सीईओ ने 'स्वच्छ भारत मिशन' के काम में सोहावल जनपद की प्रगति कमजोर होने पर समन्वयक को नोटिस जारी किया था जिसके बाद उनके खिलाफ आजाक थाने में शिकायत करा दी गई। जनपद सोहावल के सीईओ राजीव तिवारी के खिलाफ जनपद में पदस्थ 'स्वच्छ भारत मिशन' के समन्वयक विष्णु बागरी ने शिकायत दर्ज कराई है। मामले को संज्ञान में लेते हुए पुलिस ने बयान लेने के लिए सीईओ राजीव तिवारी को नोटिस देकर तलब किया है।
 
एससी-एसटी एक्ट के तहत दर्ज कराई गई शिकायत में बताया गया है कि जनपद सीईओ तिवारी जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। सीईओ तिवारी को 7 सितंबर को थाना आजाक में अपना पक्ष रखने के लिए जाना होगा। जनपद सोहावल के सीईओ राजीव तिवारी के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत की गई शिकायत का मामला तूल पकड़ गया गया है। मामले को लेकर सपाक्स समाज ने आजाक थाने पहुंचकर शिकायत का विरोध किया है।

मप्र में कांग्रेस के लिए 'अभी नहीं तो कभी नहीं' वाली स्थिति : सिंधिया

हिन्दी निबंध : झांसी की रानी लक्ष्मीबाई

मजबूत गढ़ में भी मुश्किल में भाजपा, जानिए क्या है वजह...

14 जनवरी को मकर संक्रांति, क्या जीवन में लाएगी शांति, पढ़ें 12 राशियां

बगैर तकिया लगाए सोना है फायदेमंद, ये रहे 5 फायदे

सम्बंधित जानकारी

आपत्तिजनक कंटेंट को यूजर्स के रिपोर्ट करने से पहले ही हटाने पर काम कर रहा है फेसबुक

सावधान, उत्तर कोरिया ने किया नए हाई-टेक हथियार का परीक्षण

मुसीबत में फंस सकते हैं बल्क में साड़ी, कपड़े खरीदने और बेचने वाले

Intelligence Bureau में नौकरी करना चाहते हैं तो जल्दी करें, 1000 से ज्यादा पद

स्मार्ट फोन की बैटरी बचाती है यह तरकीब, गूगल ने बताई

सीरिया में 30 बच्चों की मौत, नहीं टला युद्ध का खतरा, संयुक्‍त राष्‍ट्र ने जताया शोक

नीमच में 23 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर, जावद में त्रिकोणीय संघर्ष के आसार

राजस्थान में एक भी मुस्लिम को भाजपा का टिकट नहीं, कांग्रेस ने 9 उम्‍मीदवारों पर लगाया दांव

मध्यप्रदेश में भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र की प्रमुख बातें...

दिल्ली से खाली हाथ लौटे उपेंद्र, फिर नहीं हुई शाह से मुलाकात

अगला लेख