मध्य प्रदेश में अब तक 7 जिलों में सामान्य से अधिक वर्षा

Webdunia
बुधवार, 12 सितम्बर 2018 (16:36 IST)
भोपाल। मध्य प्रदेश में इस वर्ष मानसून में एक जून से 11 सितंबर तक 7 जिलों में सामान्य से 20 फीसदी अधिक तथा 36 जिलों में सामान्य और 8 जिलों में सामान्य से कम वर्षा दर्ज की गई है। सर्वाधिक 1339.7 मिलीमीटर वर्षा उमरिया में और सबसे कम 473.8 मिलीमीटर अलीराजपुर में दर्ज की गई है।


आधिकारिक तौर पर बुधवार को दी गई जानकारी के अनुसार, प्रदेश में सामान्य से अधिक वर्षा वाले सात जिले टीकमगढ़, भिंड, दतिया, शिवपुरी, नीमच, सिंगरौली और उमरिया हैं, जबकि 36 जिलों मुरैना, अशोकनगर, शहडोल, खंडवा, बुरहानपुर, जबलपुर, सीधी, श्योपुर, ग्वालियर, बड़वानी, रतलाम, मंदसौर, कटनी, झाबुआ, रायसेन, रीवा, दमोह, इंदौर, छतरपुर, नरसिंहपुर, खरगोन, गुना, विदिशा, मंडला, शाजापुर, सीहोर, उज्जैन, आगर-मालवा, होशंगाबाद, राजगढ़, पन्ना, भोपाल, सागर, सतना, डिंडोरी और सिवनी में सामान्य वर्षा रिकॉर्ड की गई है।

वहीं प्रदेश के आठ जिलों हरदा, बालाघाट, धार, छ़िंदवाड़ा, अनूपपुर, देवास, अलीराजपुर और बैतूल में सामान्य से कम वर्षा दर्ज की गई है। (भाषा)

किस करते वक्त इसलिए पति की जीभ काट दी

मोदी के दौरे से पहले भाजपा को बड़ा झटका, कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त नेता ने पार्टी छोड़ी

मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की गोली मारकर हत्या, ड्राइवर को भी मारा

किस वार को जन्मे हैं आप? जानिए वार अनुसार अपना स्वभाव...

भारती सिंह और उनके पति हर्ष अस्पताल में भर्ती

सम्बंधित जानकारी

चौंकाने वाली रिपोर्ट, शराब पीने से हर साल होती है 30 लाख लोगों की मौत

अब जियो टीवी पर देख सकेंगे क्रिकेट मैच

खुशखबर, नौकरी जाने पर मिलेगा पैसा, मोदी सरकार की नई योजना

जेट एयरवेज में नहीं मिलेगा मुफ्त भोजन

जान लीजिए वह 16 कारण जिनसे लगता है पितृ दोष...

विधानसभा चुनाव से पहले चुनाव आयोग का फैसला...

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स और निफ्टी में गिरावट

मोदी के दौरे से पहले भाजपा को बड़ा झटका, कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त नेता ने पार्टी छोड़ी

भाजपा ने पूछा, पाकिस्तान और कांग्रेस के बीच मोदी को हटाने का गठबंधन है क्या?

एमनेस्टी ने कहा, मुस्लिमों को हिरासत में लेने पर जवाब दे चीन

अगला लेख