कई देशों में बैन हैं ये खूंखार कुत्ते

बुधवार, 4 अप्रैल 2018 (11:22 IST)
भारत में खूंखार कुत्ता पालना स्टेटस सिंबल सा बन गया है। दूसरों की परवाह किए बिना लोग ऐसे कुत्ते पाल रहे हैं जो कई देशों में बैन हैं।
 
पिटबुल टेरियर और बुल टेरियर
बेहद आक्रामक और सिरफिरे किस्म की इन प्रजातियों को जर्मनी, डेनमार्क, स्पेन, ग्रेट ब्रिटेन, आयरलैंड, रोमानिया, कनाडा, इटली और फ्रांस में बैन किया गया है। ताकतवर जबड़ों वाला पिटबुल अपने इलाके के लेकर बहुत ही गुस्सैल होता है। गुस्सा आने पर मालिक भी इसे काबू नहीं कर पाता है।
 
रोटवाइलर
हर वक्त चुस्त रहने वाले रोटवाइलर स्पेन और फ्रांस में बैन है। कुत्ते की यह नस्ल आम तौर पर चौकीदारी में बहुत तेज होती है। इसे ढंग से ट्रेनिंग न दी जाए या मालिक खुद कंप्यूज रहे तो रोटवाइलर को संभालना मुश्किल हो जाता है।
 
अकीता इनु
जापान से निकली कुत्ते की यह नस्ल स्पेन और आयरलैंड में बैन है। अकिता आक्रामक किस्म का कुत्ता है। यह बड़े मूडी भी माने जाते हैं। खेल खेल में ये कब भड़क जाएं, अंदाजा लगाना मुश्किल होता है। अमेरिकी केनल क्लब के मुताबिक इस कुत्ते को बच्चों के साथ अकेला नहीं छोड़ना चाहिए।
 
मास्टिफ
मास्टिफ प्रजाति में कई किस्मे के कुत्ते आते हैं और ये सभी फ्रांस में प्रतिबंधित हैं। शांत स्वभाव वाले इन कुत्तों में बहुत ज्यादा ताकत होती है। इन्हें घुमाना आसान नहीं। अक्सर ये कमजोर लोगों को अपने साथ चेन या पट्टे समेत खींच ले जाते हैं।
 
स्टेफोर्डशायर टेरियर
यह नस्ल भी डेनमार्क, जर्मनी, स्पेन, आयरलैंड, फ्रांस और रोमानिया में बैन है। आम तौर पर स्टेफोर्डशायर टेरियर कुत्ते पारिवारिक माने जाते हैं। लेकिन इनके भीतर भी अपने इलाके को लेकर बहुत ज्यादा संवेदनशीलता होती है। गुस्सा आने पर यह कहना नहीं मानते।
 
रूसी शेपर्ड डॉग
डेनमार्क में बैन यह कुत्ता अपनों की बखूबी हिफाजत करता है। लेकिन बाहरी किसी चीज को बर्दाश्त नहीं करता। भले ही वो बच्चे हों, मेहमान हो या जानवर। इस कुत्ते का वजन 36 से 80 किलो तक जा सकता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING