एडिलेड में बल्लेबाजी देख भड़के सुनील गावस्कर, भारतीय बल्लेबाजों को जमकर लताड़ा

गुरुवार, 6 दिसंबर 2018 (20:29 IST)
एडिलेड। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने के समय तक भारत ने 9 विकेट खोकर 250 रन बनाए। भारतीय बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन पर पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने जमकर लताड़ लगाई। गावस्कर ने कहा कि हमारे बल्लेबाजों ने पिछली गलतियों से कोई सबक नहीं सीखा और बार-बार वही गलतियां जब दोहराई जाएंगी तो आप कैसे बड़े स्कोर की उम्मीद करेंगे?
 
 
उन्होंने कहा कि भारतीय बल्लेबाज गलतियों से सीखना ही नहीं चाहते। ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंदों को छेड़ना हमेशा से घातक साबित होता रहा है और आज भी भारतीय बल्लेबाजों ने यही गलतियां की। इन बल्लेबाजों ने विकेट पर टिकना सीखा ही नहीं है। साफ है कि आप विकेट पर जितना ज्यादा वक्त बिताएंगे, उतने ही ज्यादा रन बनाने में कामयाब होंगे। 
 
टीम इंडिया के सितारा बल्लेबाजों के स्ट्राइक रेट के बारे में गावस्कर ने कहा कि भले ही आपका स्ट्राइक रेट 300 या 200 का रहा हो लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि टी20 और वनडे क्रिकेट से टेस्ट मैच बिलकुल अलग है। टेस्ट में तो आपको हर हाल में विकेट पर रुकना होगा, जैसा कि चेतेश्वर पुजारा रुके और शतक बनाने में सफल रहे। उन्होंने भले ही शुरु के 20-25 रनों के लिए 100 गेंदें खर्च की हो लेकिन बाद में उन्हें जब भी मौका मिला, उन्होंने तेजी से रन बनाकर भारत का स्कोरबोर्ड को 250 तक पहुंचाया।
 
केएल राहुल के फ्लॉप होने पर गावस्कर ने कहा कि वे लगातार नाकाम हो रहे हैं और यदि दूसरी पारी में रन नहीं बनाते हैं तो दूसरे टेस्ट में उन्हें मौका नहीं मिलेगा। गावस्कर ने कहा कि राहुल का आत्मविश्वास डिग गया है। उन्होंने अपनी तकनीकी गलतियों में भी सुधार नहीं किया है। वे लंबे हैं और शफल करते वक्त ऑफ स्टंप कवर कर लेते हैं। यही कारण है कि वे लगातार विफल होते जा रहे हैं। राहुल ने विदेशी जमीन पर इस साल 8 मैच खेले हैं और 22.0 के औसत से 331 रन ही बनाए हैं। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING