निधास ट्रॉफी टी20 में भारत ने श्रीलंका को छह विकेट से हराया

मंगलवार, 13 मार्च 2018 (00:49 IST)
कोलंबो। भारतीय क्रिकेट टीम ने मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक की बेहतरीन बल्लेबाजी तथा युवा शार्दुल ठाकुर की शानदार गेंदबाजी की बदौलत आज निधास ट्रॉफी ट्वेंटी20 त्रिकोणीय सीरीज के मैच में श्रीलंका को छह विकेट से पराजित कर दिया। शार्दुल को 'मैन ऑफ द मैच' घोषित किया गया।


मेजबान टीम ने भारत को 19 ओवरों में 153 रन बनाने का लक्ष्य दिया था। शुरुआती झटकों के बाद मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक ने पारी को संभाला और टीम को जीत दिलाई। पांडे ने 31 गेंदों पर 42 रन और कार्तिक ने 25 गेंदों पर 39 रन बनाए। सुरेश रैना ने भी 15 गेंदों पर 27 रनों का योगदान दिया।

भारतीय टीम ने 17.3 ओवरों में 153 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया। श्रीलंका की ओर से अकीला दनंजया ने चार ओवर में 19 रन देकर दो विकेट चटकाए। इससे पहले, शार्दुल ठाकुर ने टी20 में गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जिससे भारत ने श्रीलंका को नौ विकेट पर 152 रन ही बनाने दिए।

बारिश के कारण एक घंटे का खेल खराब हो गया, जिससे मैच 19-19 ओवर का कर दिया गया।श्रीलंका की ओर से कुसाल मेंडिस ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए तीन चौके और इतने ही छक्के से 38 गेंद में 55 रन की पारी खेली। लेकिन इसके बाद शार्दुल की अगुवाई में भारतीय गेंदबाजों ने लगातार अंतराल पर विकेट झटककर अपनी टीम को मैच में वापस ला दिया।

शार्दुल ने 27 रन देकर चार विकेट चटकाए जबकि युवा ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर (21 रन देकर दो विकेट) ने दो विकेट प्राप्त किए जिससे भारत ने शुरूआती 10 ओवर में रन लुटाने के बाद अच्छी वापसी की। विजय शंकर (30 रन देकर एक विकेट), युजवेंद्र चहल (34 रन देकर एक विकेट) और जयदेव उनादकट (33 रन देकर एक विकेट) ने एक एक विकेट प्राप्त किया।

शुरू में श्रीलंकाई बल्लेबाजों के तेजी से रन बनाने से ऐसा लग रहा था कि रोहित शर्मा का पहले गेंदबाजी करने का फैसला उलटा पड़ गया है। श्रीलंका ने पहले दो ओवर में 24 रन जुटा लिए थे। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज उनादकट ने पहले ही ओवर में 15 रन लुटा दिए। लेकिन भारत ने लगातार ओवरों में दो विकेट प्राप्त कर लगाम लगाई।

शार्दुल ने धनुष्का गुणतिलक (17) को तीसरे ओवर में आउट किया, सुरेश रैना ने मिडविकेट पर शानदार कैच लपका। सुंदर ने फिर फार्म में चल रहे कुशाल परेरा (3) को अगले ओवर में पैवेलियन भेजा, जो रिवर्स स्विप खेलने के प्रयास में विकेट खो बैठे।

लेकिन इसके बाद कुसाल मेंडिस ने उपुल थरंगा (22) के साथ मिलकर भारतीय गेंदबाजों के लिए परेशानी खड़ी करते हुए तीसरे विकेट के लिए 62 रन की भागीदारी निभाई, जिससे श्रीलंका ने 10 ओवर के बाद दो विकेट गंवाकर 94 रन बना लिए। कुसाल मेंडिस ने अच्छी फार्म जारी रखते हुए भारतीय गेंदबाजों को नहीं बख्शा जबकि थरंगा दूसरे छोर पर उनका साथ निभाते रहे।

शंकर ने इस खतरनाक दिख रही भागीदारी का अंत किया, उन्होंने 11वें ओवर में थंरगा को बोल्ड किया। लेकिन शंकर ने दो खराब गेंद फेंकी, जिस पर श्रीलंकाई कार्यवाहक कप्तान तिसारा परेरा (15) ने दो छक्के जड़ दिए। इस बीच कुसाल मेंडिस ने महज 31 गेंद में पांच पारियों में अपना चौथा अर्धशतक पूरा किया। लेकिन भारत ने तेजी से तिसारा परेरा, जीवन मेंडिस और कुसाल मेंडिस के रूप में तीन विकेट झटककर वापसी की।

श्रीलंकाई कप्तान शार्दुल ठाकुर की गेंद पर चहल को कैच दे बैठे। सुंदर ने जीवन मेंडिस को आउट किया। कुसाल मेंडिस चहल की गेंद पर रोहित को आसान कैच दे बैठे। शार्दुल ने फिर 19वें ओवर में दासुन शनाका (19) और दुष्मंत चामीरा को लगातार गेंद में आउट किया, हालांकि इस गेंदबाज के पास हैट्रिक का मौका था लेकिन वह इससे चूक गए। 
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING