एशिया कप : कलाई में फ्रैक्चर के बावजूद बल्लेबाजी के लिए तमीम की सराहना

रविवार, 16 सितम्बर 2018 (17:47 IST)
दुबई। तमीम इकबाल बल्लेबाजी के लिए उतरे, चोटिल हुए, अस्पताल गए, कलाई में फ्रैक्चर के साथ वापस लौटे और फिर बल्लेबाजी की और इस बार एक हाथ से। उनके इस साहसिक कदम की जमकर तारीफ हो रही है।
 
 
डॉक्टरों ने तमीम को कह दिया था कि बाईं कलाई में फ्रैक्चर के कारण उनके लिए एशिया कप खत्म हो गया है लेकिन इसके घंटों बाद तमीम 9वां विकेट गिरने पर क्रीज पर उतरे और एक हाथ से बल्लेबाजी की।
 
उन्होंने शतक जड़ने वाले मुशफिकुर रहीम के साथ बल्लेबाजी की और अंतिम विकेट के लिए 32 रन जोड़ने में मदद की जिससे उनकी टीम 261 रन बनाने में सफल रही और बांग्लादेश ने टूर्नामेंट के पहले मैच में श्रीलंका पर बड़ी जीत दर्ज की।
 
बांग्लादेश के कप्तान मशरेफ मुर्तजा ने शनिवार को मैच के बाद कहा कि काफी दबाव था, 2 विकेट जल्दी गिर गए और तमीम बल्लेबाजी नहीं कर सकता था लेकिन दोबारा बल्लेबाजी करने का फैसला उसने किया। अगर वह बल्लेबाजी नहीं करना चाहता था तो कोई उस पर इसके लिए दबाव नहीं डाल सकता था।
 
कप्तान ने कहा कि तमीम का बाहर होना बांग्लादेश के लिए बड़ा झटका है। उन्होंने साथ ही मुशफिकुर की पारी को अपने देश के क्रिकेटर की सर्वश्रेष्ठ पारी में से एक करार दिया। श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज को अपनी टीम की बड़ी हार का मलाल है लेकिन उन्होंने भी तमीम की तारीफ की।
 
मैथ्यूज ने कहा कि बल्लेबाजों ने शनिवार को निराश किया। लसिथ ने बेहतरीन गेंदबाजी की। 3 रन पर 3 विकेट और फिर हमने उन्हें वापसी करने दी। हमने कुछ अहम कैच टपकाए। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद इस विकेट पर 260 रन के लक्ष्य को हासिल किया जा सकता था। यह काफी अच्छा खेल रही थी। हमने बल्लेबाजी करते हुए कुछ खराब फैसले किए।
 
मुशफिकुर ने 150 गेंदों में 11 चौकों और 4 छक्कों की मदद से अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ 144 रनों की पारी खेली। यह उनके करियर का 6ठा एकदिवसीय शतक है जिससे टीम 49.3 ओवरों में 261 रन बनाने में सफल रही। इसके जवाब में श्रीलंका की टीम 35.2 ओवरों में 124 रन ही बना सकी। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING