अब आ गई स्मार्ट ज्वेलरी, खतरे को भांपकर देगी अलर्ट

रविवार, 15 अप्रैल 2018 (16:53 IST)
वॉशिंगटन। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा स्मार्ट ब्रेसलेट विकसित किया है जो अपने आप शारीरिक या यौन हमले का पता लगा सकता है, हमलावर को डरा सकता है और मदद बुला सकता है। यह पता लगने पर कि उपयोगकर्ता खतरे में है, यह उपकरण तेज बीप वाली आवाज करता है और हमलावर को डराने तथा पास में मौजूद अन्य लोगों को सतर्क करने के मकसद से इसमें लाल झिलमिलाती रोशनी होती है।

अमेरिका में यूनिवर्सिटी आफ अलाबामा एट बर्मिंघम के एसोसिएट प्रोफेसर रागिब हसन ने कहा कि हमला रोकने में एक बड़ी चुनौती यह है कि हमले के दौरान, पीड़िता के पास अक्सर मदद मांगने का आसान रास्ता नहीं होता। हसन ने कहा कि चाहे 911 पर फोन करना हो, आपातकालीन अलर्ट एप या डिवाइस प्रयोग करना हो, इन प्रणालियों के लिए बटन दबाना जरूरी होता है ताकि मदद पहुंच सके।

हिंसक कृत्य के समय या हमले के कारण किसी व्यक्ति के अचेत होने पर कई बार यह संभव नहीं होता है। स्मार्ट ज्वेलरी ब्रेसलेट, जो फिलहाल अपने मूलरूप में है, हमले का पता करने की दिशा में उपयोगकर्ता की गतिविधियों का विश्लेषण करने हेतु सेंसरों तथा मशीन लर्निंग का प्रयोग करता है।

यह पता चलने पर कि उपयोगकर्ता खतरे में है, यह हमलावर को डराने तथा पास के लोगों को सतर्क करने के लिए एक तेज बीप की आवाज करता है तथा लाल झिलमिलाती रोशनी करता है। इसके बाद डिवाइस ब्लूटूथ के जरिए उपयोगकर्ता के स्मार्टफोन से जुड़ जाता है और तुरंत आपातकालीन संदेश भेजता है तथा आपातकाल में मदद पहुंचा सकने वालों को उपयोगकर्ता की जगह बताता है। (भाषा)
(Photo courtesy : www.uab.edu) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING