दुनिया के सबसे बड़े ट्रैम्प-चार्ली चैपलिन

सोमवार, 16 अप्रैल 2018 (14:10 IST)
लंदन। सर चार्ल्स स्पेंसर चैपलिन या जिन्हें सारी दुनिया चार्ली चैपलिन के नाम से जानती है का जन्म दिन प्रति वर्ष 16 अप्रैल को होता है। खामोश फिल्मों की दुनिया में सभी को हंसाने वाले एक्‍टर चार्ली के चेहरे पर मुस्‍कान जिंदगी में बहुत कम ही दिखी। गरीबी और एक बिखरे परिवार के दर्द ने उन्हें जीवन भर हंसी से दूर रखा। इतना ही नहीं, उन्हें मरने के बाद चोरों ने भी चैन से नहीं रहने दिया और उनके शव तक की चोरी कर ली गई थी। 
 
कॉमेडी को अपनी खामोश अदाकारी से एक नई परिभाषा देने वाले चार्ली की अगली कई पीढि़यों ने नकल की लेकिन उन्हें जो सफलता मिली वह नकल करने वालों को नहीं। दुनिया को हंसाने वाले इस आवारा द ट्रैम्प को वर्ष 1975 में महारानी एलिजाबेथ सेकंड ने नाइट की उपाधि दी थी। जहां चार्ली चैपलिन ने 1940 में आई फिल्म 'द ग्रेट डिक्टेटर' में हिटलर का मजाक बनाया था। आश्चर्य की बात है कि उनकी और हिटलर की उम्र में महज 4 दिन का फर्क है। हिटलर का जन्‍म 20 अप्रैल 1889 को हुआ था, जबकि चार्ली की जन्म तिथि 16 अप्रैल की है। 
 
चार्ली का जीवन सुखद नहीं रहा और पर्दे पर जिस तरह हालात के मारे एक इंसान के किरदार में दिखते थे, वैसे ही उनकी असल जिंदगी का संघर्ष भी छोटी उम्र में ही शुरू हो गया था। उनका परिवार बेहद गरीब था और शराबी पिता के व्‍यवहार से उनकी मां पागल हो गई थीं। चार्ली पर से मात्र 7 साल की उम्र ही मां-बाप का साया उठ गया था और उनको आश्रम भेज दिया गया था।
 
चार्ली ने अपने जीवन में 4 विवाह किए और उनके 11 बच्‍चे थे। कहा जाता है कि उनके हजारों महिलाओं से संबंध रहे लेकिन उन्हें महिलाओं पर कभी भरोसा नहीं हुआ। शायद यही वजह थी कि उनके संबंध इतनी महिलाओं के साथ रहे। वहीं चार्ली ने एक बार कहा था कि नशे की हालत में ही इंसान के असली चरित्र का खुलासा होता है। उनकी मृत्‍यु 25 दिसंबर 1977 को 88 साल की उम्र में हुई थी। 
 
एक रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मौत के दो महीने बाद ही चार्ली के शव की उनकी कब्र से चोरी कर ली गई थी। जांच में सामने आया कि उनका ताबूत ही चुरा लिया गया था और इसके बदले चोरों ने 600,000 स्विस फ्रैंक्स की मांग रखी थी लेकिन उनकी पत्‍नी ने यह रकम देने से इनकार कर दिया था। 
 
हिटलर जैसे तानाशाह का चार्ली ने अपनी फिल्म ‘द ग्रेट डिक्टेटर’ में खुलकर मजाक उड़ाया था। वामपंथ का समर्थन करने के कारण चार्ली पर अमेरिका ने बैन भी लगा दिया था। चार्ली चैपलिन के जिस हैट, छड़ी और छोटी मूंछों वाले किरदार को हम पहचानते हैं, उसका नाम ट्रैम्प है। चार्ली चैपलिन के इस किरदार की दुनिया भर में नकल की गई। भारत में भी राजकपूर जैसे अभिनेता उनसे प्रेरित थे। 

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING