पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह मुशर्रफ की मुश्किलें बढ़ी, देशद्रोह के मामले में रोजाना सुनवाई

Webdunia
सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (19:23 IST)
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह के मामले की सुनवाई कर रही एक विशेष अदालत ने सोमवार को 9 अक्टूबर से मामले की दैनिक सुनवाई का फैसला किया।
 
 
पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) की पूर्ववर्ती सरकार ने नवंबर, 2007 में संविधानेत्तर आपातकाल लागू करने को लेकर पूर्व सैन्य शासक के खिलाफ 2013 में देशद्रोह का मामला दर्ज किया था। न्यायमूर्ति यावर अली की अगुवाई वाले 3 सदस्यीय न्यायाधिकरण ने सोमवार को मामले की कार्यवाही को स्थगित करते हुए कहा कि दुबई में रह रहे पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ 9 अक्टूबर से प्रतिदिन सुनवाई होगी।
 
न्यायमूर्ति अली ने गृह मंत्रालय से लिखित रूप में यह बताने को कहा है कि मुशर्रफ को किस तरह अदालत में पेश किया जा सकता है। न्यायमूर्ति अली ने अभियोजन पक्ष के वकील नसीर-उद-दीन नैयर से कहा कि वे अदालत को बताएं कि क्या मुशर्रफ का बयान वीडियो लिंक के जरिए रिकॉर्ड किया जा सकता है या नहीं?
 
मुशर्रफ लौटने का वादा कर 18 मार्च,2016 को चिकित्सा उपचार के लिए दुबई चले गए थे। कुछ माह बाद एक विशेष अदालत ने उन्हें भगोड़ा अपराधी घोषित करते हुए उनकी संपत्ति जब्त करने का निर्देश दिया था। मुशर्रफ सुरक्षा कारणों का हवाला देकर तभी से पाकिस्तान लौटने से मना कर रहे हैं। (वार्ता)

बढ़ती उम्र संबंधी बीमारियों से बचना है तो करें उपवास

अजीत डोभाल के रोचक-रोमांचक किस्से

बीवी को पता चल गया तो : हंसी नहीं रोक पाओगे इस चुटकुले को पढ़कर

अगर करीना कपूर हुई दूसरी बार प्रेग्नेंट तो देश छोड़ देगी यह एक्ट्रेस!

लीची : स्वाद में कमाल, सेहत बेमिसाल, पढ़ें 8 फायदे

सम्बंधित जानकारी

शशि थरूर का मोदी पर बड़ा हमला, पीएम की वजह से नहीं जा सके पद्‍मनाभस्वामी मंदिर...

क्या है कर्नाटक संकट, क्या होगा कांग्रेस समर्थित कुमारस्वामी सरकार का.. 2 मिनट में जानें...

अमेरिका बंद : तमाम जोड़तोड़ के बाद भी नहीं निकल रहा कोई नतीजा

शत्रुघ्न सिन्हा का पीएम मोदी पर हमला, टीवी एक्ट्रेस को HRD मंत्री बनाना कहां तक उचित है?

सावधान, जमीन, हवा और समुद्र में हमला करने वाली सेना बना रहा है चीन, अमेरिकी अधिकारी ने चेताया

फिल्मी स्टाइल में बिल्डर की गोली मारकर हत्या

राहुल गांधी व कुमारस्वामी के हस्तक्षेप से कर्नाटक में सियासी संकट टला...

बढ़ती उम्र संबंधी बीमारियों से बचना है तो करें उपवास

संजय जैन व केएम नटराज एएसजी नियुक्त

मिशेल की संपत्तियों का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं एजेंसियां

अगला लेख