पाकिस्तान चुनाव में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर पाबंदी दिखाई दी

शुक्रवार, 27 जुलाई 2018 (23:54 IST)
इस्लामाबाद। यूरोपीय संघ के चुनाव पर्यवेक्षकों की एक टीम ने शुक्रवार को कहा कि इस हफ्ते पाकिस्तान के आम चुनाव में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर पाबंदियों और प्रचार के लिए उम्मीदवारों को असमान अवसर दिए जाने जैसी चीजें देखने को मिलीं।
 
 
यूरोपीय संघ चुनाव पर्यवेक्षण मिशन (ईयू ईओएम) ने 25 जुलाई के आम चुनाव के अपने प्रारंभिक आकलन में कहा है कि मीडिया संगठन और पत्रकार इन पाबंदियों से प्रभावित हुए। ईयू के मुख्य पर्यवेक्षक माइकल गेहलर एमईपी (जर्मनी) के नेतृत्व वाली टीम ने कहा कि नए चुनाव कानून में सकारात्मक बदलावों के बावजूद चुनाव प्रक्रिया राजनीतिक माहौल से नकारात्मक रूप से प्रभावित हुई।
 
उन्होंने बताया कि ईयू के 120 पर्यवेक्षकों ने पंजाब, सिन्ध, खैबर पख्तूनख्वा और इस्लामाबाद में 113 निर्वाचन क्षेत्रों के 582 मतदान केंद्रों पर चुनाव प्रक्रिया का अवलोकन किया, वहीं स्वतंत्र फेयर एंड फ्री इलेक्शन नेटवर्क (एफएएफईएन) ने अपनी प्रारंभिक चुनाव पर्यवेक्षण रिपोर्ट में कहा है कि देश में मतदान की संपूर्ण प्रक्रिया सहज और निष्पक्ष रही, हालांकि मामूली अनियमितताएं भी दर्ज की गईं। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING