नरेंद्र मोदी और अमित शाह की आंखों का तारा बने रमन सिंह...

विशेष प्रतिनिधि

बुधवार, 29 अगस्त 2018 (12:18 IST)
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह का दिल्ली दौरा कई मायनों में अहम रहा। चुनावी साल में मुख्यमंत्री रमन सिंह ने जहां एक ओर पूरे राज्य में विकास यात्रा के जरिए हर किसी तक पहुंच रहे हैं तो दूसरी ओर वे पार्टी हाईकमान की भी पसंद बनते जा रहे हैं।
 
इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दिल्ली में भाजपा मुख्यमंत्रियों की बैठक के बाद परिषद में हुई फैसलों की जानकारी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने मीडिया के सामने रखी। वहीं अपने दिल्ली दौरे के दौरान रमन ने कांग्रेस को तगड़ी पटखनी देते हुए राज्य में यूथ आइकॉन माने जा रहे पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भाजपा की सदस्यता दिलाई।

ओपी चौधरी उस दिन भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय में भाजपा में शामिल हुए जब वहां देश के करीब 15 भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और कई उपमुख्यमंत्री थे। ऐसे में ओपी चौधरी का अमित शाह से मिलना और भाजपा में शामिल होने के सियासी गलियारों में कई मायने निकाले जा रहे हैं।

हालांकि मुख्यमंत्री रमन सिंह ने केंद्रीय नेतृत्व के सामने अपने संगठनात्मक और प्रशासनिक रणनीतिक कौशल का परिचय पहली बार नहीं दिया है। पिछले 15 सालों से सत्ता पर काबिज हो पहले ही रमन भाजपा के लिए छत्तीसगढ़ का 'दुर्ग' संभाले हुए हैं।

छत्तीसगढ़ का भाजपा शासित राज्यों में कितना महत्वपूर्ण स्थान है इसको इस बात से भी समझा जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सबसे महत्वाकांक्षी योजना का शुभारंभ पिछले दिनों छत्तीसगढ़ के बस्तर से किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने मंच से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह की तारीफ भी की थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इस साल दो बार और प्रधानमंत्री बनने के बाद पांच बार छत्तीसगढ़ का दौरा करना भी उनका राज्य और प्रदेश नेतृत्व से लगाव को दर्शाता है। यही वजह है कि राज्य में भाजपा के संगठन को मजबूत करने और फिर से सरकार बनाने के लिए पार्टी अध्यक्ष अमित शाह बराबर राज्य का दौरा कर रहे हैं।

अमित शाह सितंबर के पहले हफ्ते में फिर रायपुर आ रहे हैं जहां वे कार्यकर्ताओं को जीत के लिए टिप्स देंगे। रमन सिंह की विकास यात्रा में अमित शाह समेत कई केंद्रीय मंत्रियों का शामिल होना भी रमन सिंह के लगातार बढ़ते सियासी कद को दर्शाता है। इतना ही नहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी राष्ट्रपति बनने के बाद दो बार छत्तीसगढ़ आ चुके हैं और राज्य के विकास की प्रशंसा करते रहे हैं। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING