इमरान खान लेंगे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ, सामने होंगी ये चुनौतियां, सद्‍भावना दूत बने सिद्धू

शनिवार, 18 अगस्त 2018 (09:27 IST)
इस्लामाबाद। इमरान खान पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। इमरान खान के बुलावे पर क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान पहुंच चुके हैं। पाकिस्तान में आम चुनाव के बाद इमरान संसद में भी जीत हासिल कर चुके हैं।


पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का पद संभालते ही इमरान के सामने बेरोजगारी, गरीबी और कमजोर अर्थव्यवस्था बड़ी चुनौतियां होंगी। पाकिस्तान को 25 अरब डॉलर (करीब 1 लाख 74 हजार करोड़ रुपए) के कर्ज की जरूरत है। पाकिस्तान के सम्भावित वित्तमंत्री असद उमर भी कह चुके हैं कि देश के हालात काफी खराब हैं। केंद्रीय बैंक के पास महज 10 अरब डॉलर (करीब 70 हजार करोड़ रुपए) हैं। उम्मीद है कि कम वक्त के लिए हमें कहीं से भी 8-9 अरब डॉलर का कर्ज मिल जाएगा। हालांकि इसके बाद भी हमारी जरूरतें पूरी होना नामुमकिन है।

सिद्धू ने कहा सद्‍भावना दूत बनकर आया हूं : इमरान खान के विशेष बुलावे पर पाकिस्तान पहुंचे सिद्धू ने पाकिस्तान के लोकतंत्र में चुनाव के बाद आए बदलाव का स्वागत करते हुए कहा कि इमरान को दोनों देशों के बीच अमन की बहाली की पहल करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे भारत के सद्भावना दूत के रूप में मोहब्बत का पैगाम लेकर पाकिस्तान आए हैं।

उन्होंने कहा कि मैं यहां राजनेता के रूप में नहीं बल्कि दोस्त के रूप में आया हूं। मैं यहां अपने दोस्त (इमरान) की खुशी में शरीक होने आया हूं। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान जीवे, पाकिस्तान जीवे। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भी दोनों देशों के बीच अमन की बात करते थे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING