इमरान खान पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री बने, विश्वासमत जीता

शुक्रवार, 17 अगस्त 2018 (17:34 IST)
इस्लामाबाद। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) प्रमुख और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री चुन लिए गए हैं। शुक्रवार को हुई विश्वास मतों की वोटिंग में उन्होंने प्रतिद्वंद्वी शाहबाज शरीफ को हराया। इमरान को 176 वोट मिले जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी शाहबाज को केवल 96 मत ही हासिल हुए। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया।

25 जुलाई को हुए आम चुनाव में इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने 116 सीटें जीती थीं, लेकिन इमरान समेत कुछ उम्मीदवारों के एक से ज्यादा सीटों पर चुनाव जीतने की वजह से पार्टी को 6 सीटें छोड़नी पड़ीं। चुनाव आयोग ने पीटीआई को नौ सीटें अल्पसंख्यक कोटे की और 33 सीटें महिला कोटे की दीं। उसके पास कुल 152 सीटें हैं और बहुमत के लिए पीटीआई ने कई छोटे दलों से गठबंधन किया।

इमरान अब सिर्फ मियांवाली सीट पर : आम चुनाव में इमरान ने पांच सीटों पर जीत दर्ज की थी। अब उन्होंने सिर्फ मियांवाली सीट अपने पास रखी है और बाकी चार सीटें छोड़ दीं। उनकी पार्टी के गुलाम सरवर खान और ताहिर सादिक ने भी एक-एक सीट छोड़ी है। इससे पीटीआई के पास कुल 110 सीटें रह गईं। 

इमरान को जरूरी संख्या से तीन वोट ज्यादा मिले
संसद में कुल सीटें 336
बहुमत के लिए जरूरी थे 173
पीटीआई को मिले वोट 176 

काम नहीं आया विरोध : चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद से ही पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) अन्य दलों के साथ मिलकर इमरान का विरोध कर रहे थे। उन्होंने चुनाव में धांधली होने का आरोप भी लगाया। हालांकि संसद में वोटिंग के दौरान उनका कोई दांव नहीं चला और पीटीआई ने सफलतापूर्वक बहुमत हासिल कर लिया।

एमएमए फिर बनी किंगमेकर : चुनाव विश्लेषक सैयद मसरूर शाह के मुताबिक, फिलहाल यह खुलासा नहीं हुआ है कि इमरान का साथ देने वाले राजनीतिक दल कौन-से हैं। सूत्रों की मानें तो फजल-उर-रहमान की पार्टी मुताहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएमए) एक बार फिर पाकिस्तानी राजनीति में किंगमेकर माना जा रहा है। पार्टी के पास कुल 17 सीटें हैं। एमएमए ने 1997 से अब तक हर सत्तारूढ़ पार्टी को समर्थन दिया है। 

सादगी से होगा इमरान खान का शपथ ग्रहण समारोह : इमरान खान ने अपने प्रधानमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह को सादगी से आयोजित करने का निर्देश दिया है। यह समारोह 18 अगस्त को एवान-ए-सद्र (प्रेसीडेंट हाउस) में होगा, जहां मेहमानों को केवल चाय और बिस्किट परोसे जाएंगे।
 
पीटीआई प्रमुख ने इस आयोजन में राजकोष पर अनावश्यक बोझ न डालने का निर्देश दिया है। इसमें किसी तरह की फिजूलखर्ची या दिखावा नहीं किया जाएगा। इसमें इमरान खान के कुछ करीबी मित्र ही शामिल होंगे।

उनके शपथ ग्रहण समारोह के लिए भारत से 3 समकालीन क्रिकेटरों सुनील गावस्कर, कपिल देव और नवजोत सिद्धू को न्योता दिया गया था। सिद्धू इस समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान पहुंच चुके हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING