सांसद, विधायकों के लिए भी हो शैक्षणिक योग्यता

सोमवार, 12 मार्च 2018 (10:30 IST)
इंदौर। न्यायमूर्ति आईएस श्रीवास्तव ने कहा कि अब वक्त आ गया है कि सांसद और विधायकों के लिए भी शै‍क्षणिक योग्यता का निर्धारण होना चाहिए। इस बात का चिंतन करने की भी जरूरत है कि जिन प्रतिनिधियों को हम पार्टी का मुंह देखकर चुनते हैं, वे ही आगे चलकर पार्टी बदल लेते हैं। 
 
जस्टिस श्रीवास्तव मासिक पत्रिका 'संपर्क संवाद' के लोकार्पण कार्यक्रम में बोल रहे थे। इंदौर हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश श्रीवास्तव ने कहा कि सांसद और विधायकों की न सिर्फ शैक्षणिक योग्यता निर्धारित होनी चाहिए बल्कि वह कानून का पालन करने वाला और मॉरल कैरेक्टर वाला भी होना चाहिए। दरअसल, कानून में संशोधन होते हैं और अयोग्यता के चलते कई जनप्रतिनिधियों को उसकी गंभीरता का ही पता नहीं होता। 
 
इंदौर शहर की स्वच्छता की प्रशंसा करते हुए श्रीवास्तव ने कहा कि शहर स्वच्छ तो बन गया है, लेकिन इसे सुंदर भी बनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि शहर में पार्किंग व्यवस्था सही नहीं है साथ ही अतिक्रमण के कारण सड़कें संकरी हो गई हैं। इस ओर भी ध्यान दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने म्यूनिसिपल मजिस्ट्रेट की जरूरत भी बताई ताकि सड़क पर अतिक्रमण करने वालों पर चालानी कार्रवाई हो सके। 
वरिष्ठ पत्रकार एवं साधना न्यूज इंदौर के प्रमुख प्रतीक श्रीवास्तव ने आईएस श्रीवास्तव की बात को और आगे बढ़ाते हुए कहा कि पत्रकारों के लिए भी शैक्षणिक योग्यता और नियम होने चाहिए। उन्होंने पत्रकारों को अपने ‍गिरेबां में झांकने की नसीहत देते हुए कहा कि आज की पत्रकारिता को आत्ममंथन, आत्मचिंतन और आत्मावलोकन की जरूरत है। श्रीवास्तव ने रामनाथ गोयनका का भी उदाहरण दिया किस तरह उन्होंने अपने ही अखबार में अपने खिलाफ पहले पन्ने पर समाचार प्रकाशित करवाया। 
 
इंदौर प्रेस क्लब के महासचिव नवनीत शुक्ला ने कहा कि स्वतंत्रता के समय और आपातकाल के दौरान पत्रकारिता मिशन थी, लेकिन अब उसमें भटकाव और व्यावसायिकता आ गई है। जब मिशन नहीं होता है तो स्वाभाविक रूप से भटकाव आता है। इंदौर पुलिस की सराहना करते हुए शुक्ला ने कहा कि चौराहों पर तो पुलिस का डर है, लेकिन इसे सड़कों और गलियों में भी होना चाहिए। इस अवसर पर डीएसपी राजिन्दरसिंह वर्मा, युनुस खान गुड्‍डू एवं प्रदीप शर्मा ने भी संबोधित किया। मंच पर पत्रिका संपादक अतुल पाठक एवं विजयसिंह राठौर भी मौजूद थे। 
 
कार्यक्रम के दौरान ही शहर के गजल गायक विनीत शुक्ला ने अपने साथियों के साथ शानदार प्रस्तुति दी। उन्होंने होठों से छू लो तुम, आहिस्ता... समेत जगजीतसिंह की गजलें पेश कीं। इस अवसर पर डीएसपी राजिन्दरसिंह वर्मा (पुलिस रेडियो ट्रेनिंग स्कूल), पुलिस निरीक्षक ऋषिकुमार निमोदा, उपनिरीक्षक हरेन्द्र कुमार चंद्रायन, आरक्षक जीवनसिंह ठाकुर (नार्कोटिक्स) और योगेन्द्रसिंह चौहान (नार्कोटिक्स) को उत्कृष्ट सेवा एवं कर्तव्यपरायणनता के लिए सम्मानित किया गया। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING