अगर दरिद्रता को करना चाहते हैं घर से बाहर तो दीपावली पर अवश्‍य करें अष्टलक्ष्मी साधना का यह चमत्कारी उपाय

* दरिद्रता को हमेशा के लिए घर से बाहर करना चाहते हैं तो दीपावली पर अवश्‍य करें अष्टलक्ष्मी साधना का यह चमत्कारी उपाय
 
दरिद्रता मनुष्य के लिए अभिशाप है। इस संसार में कई ऐसे व्यक्ति हैं जो अथक परिश्रम करने के उपरांत भी धनार्जन करने में असफल रहते हैं। ऐसे में वे विपन्नतायुक्त जीवन-यापन करने को विवश होते हैं। 
 
हमारे शास्त्रों में कई ऐसे दुर्लभ व अचूक प्रयोग हैं जो इस दरिद्रता नामक अभिशाप से मुक्ति प्रदान करने में सक्षम हैं। दीपावली के शुभ मुहूर्त में यदि धनाकांक्षी व्यक्ति 'अष्टलक्ष्मी' प्रयोग सम्पन्न करें तो मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त कर वह अपने जीवन में आए आर्थिक संकटों से मुक्ति प्राप्त कर सकता है। 
 
आइए जानते हैं क्या है 'अष्टलक्ष्मी' प्रयोग :-
 
सर्वप्रथम एक थाली में अष्टदल कमल बनाकर पारद या स्फटिक का 'श्रीयंत्र' स्थापित कर उसकी पंचोपचार या षोडषोपचार पूजन करें फिर निम्न मंत्र की एक सौ आठ माला से जप करें। यह जप कमलगट्टे की माला से करना आवश्यक है।
 
मंत्र- ' ॐ ह्रीं दारिद्रय विनाशिन्यै अष्टलक्ष्म्यै नम:॥'
 
इसके बाद 'श्रीयंत्र' को अपनी तिजोरी में स्थापित करें। दीपावली के दिन इस प्रयोग को संपन्न करने से जीवन में कभी भी धनाभाव नहीं होता है।
 
-ज्योतिर्विद् पं. हेमन्त रिछारिया
प्रारब्ध ज्योतिष परामर्श केन्द्र
सम्पर्क: astropoint_hbd@yahoo.com

ALSO READ: दीपावली पर लक्ष्मी के साथ होती है एक देव, एक यक्ष और दो माता की पूजा

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING