दिल्ली में गलाघोंटू गैंग का आतंक, पहले गला दबाते हैं फिर लूट लेते हैं सामान...

शुक्रवार, 31 अगस्त 2018 (12:55 IST)
नई दिल्ली। अगर आप दिल्‍ली में कहीं किसी काम से जा रहे हैं तो हो जाएं सावधान! क्‍योंकि जरा सी असावधानी आपकी जान पर भारी पड़ सकती है। और दिल्ली में यह खौफ पैदा किया है, गला घोंटू गैंग के सदस्‍यों ने, जो किसी को भी मौका पाते ही गला दबाकर लूट लेते हैं।


खबरों के मुताबिक, गला घोंटू गैंग के ये सदस्‍य अपने शिकार पर पीछे से झपटते हैं और गले में फंदा फंसाकर कुछ सेकंड के लिए घोंटते हैं, जिससे वह बेहोश हो जाता है, फिर गले से सोने की चेन, या कंधे पर लटका बैग, या मोबाइल लूटकर फरार हो जाते हैं। कुछ इसी तरह दिल्ली में सिलसिलेवार वारदात कर गैंग के इन सदस्‍यों ने दहशत का माहौल बना दिया है।

गला घोंटू गैंग के ये सदस्‍य दरअसल पूरी ताकत से शिकार का गला दबा देते हैं और ऐसे में अगर कोई शख्स बुजुर्ग, कमजोर या बीमार है तो उसकी जान को भी खतरा रहता है। ऐसे में वारदात के समय व्‍यक्ति बिलकुल विरोध नहीं कर पाता और न ही शोर मचा पाता है।

ऐसा ही एक घटना दिल्‍ली के एक शख्‍स के साथ शाहदरा मेट्रो स्टेशन के बाहर देर घटी। वे नोएडा से मेट्रो लौट रहे थे। शाहदरा मेट्रो स्टेशन पर रात को बारह बजे उतरे। स्टेशन से बाहर निकलकर ऑटो की तलाश में घूमे। वहां नहीं मिला तो कुछ दूर तक पैदल चले। मोबाइल से उबर कैब बुक की। 10 मिनट का टाइम कैब के पहुंचने का मिला तो वहीं बैठ गए। एक मिनट बचा था और ड्राइवर को कॉल करने ही वाले थे कि इतने में पीछे से किसी ने गर्दन दबा दी, जिससे 10 सेकंड के बाद वे बेहोश हो गए। 5 मिनट के बाद जब होश आया तो वे कीचड़ में गिरे पड़े थे और देखा तो फोन और पर्स गायब थे। होश आने पर चिल्लाए तो एक व्‍यक्ति ने उन्‍हें गाड़ी पर बिठाया और खोजबीन की, मगर वहां कोई नहीं दिखा। फिर मददगार का फोन लेकर घर और पुलिस को फोन किया। बाद में पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की खोजबीन शुरू की।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING