खौफनाक, भीड़ ने पीट-पीटकर की एएसआई की हत्या

गुरुवार, 26 जुलाई 2018 (11:20 IST)
फाइल फोटो

छिंदवाड़ा (मध्यप्रदेश)। जिला मुख्यालय के पास एक गांव में फरार चल रहे आरोपी को बुधवार सुबह पकड़ने गए पुलिस दल पर आरोपी एवं उसके परिजनों ने कुल्हाड़ी और लाठियों से हमला कर दिया, जिसमें एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) की मौत हो गई, जबकि एक आरक्षक घायल हो गया।


छिंदवाड़ा जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज सोनी ने बताया कि छिंदवाड़ा के उमरेठ थाना इलाका अंतर्गत जमुनिया जेठू गांव निवासी स्थाई वारंटी जौहर सिंह (30) लम्बे समय से फरार चल रहा था। मुखबिर की सूचना पर उसे पकड़ने उमरेठ थाने में पदस्थ एएसआई देवचंद नागले (40) एवं आरक्षक अनिल उइके आज सुबह जमुनिया जेठू गांव पहुंचे और गांव के कोटवार (गांव में होने वाले अपराधों की जानकारी सरकार को देने वाला) राम सिंह को भी साथ ले लिया।

उन्होंने कहा कि इसके बाद वे जौहर सिंह को पकड़ने उसके घर सुबह करीब छह बजे गए। इसी दौरान पुलिस को आते देख आरोपी जौहर सिंह, उसके परिवार की महिलाओं एवं जीवन ने लाठियों एवं कुल्हाड़ी से उन पर अचानक हमला कर दिया, जिससे एएसआई देवचंद नागले गंभीर रूप से घायल हो गए और आरक्षक अनिल उइके को हाथ-पैर में चोटें आईं। सोनी ने बताया कि बाद में ग्रामीणों द्वारा पुलिस की डायल 100 वाहन (फर्स्‍ट रिस्पांस व्हिकल) को बुलाया गया और यह वाहन इन दोनों घायलों को अस्पताल ले जाने लगी, लेकिन एएसआई देवचंद ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

उन्होंने कहा कि घायल आरक्षक अनिल का जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सोनी ने बताया कि इस सिलसिले में पुलिस की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि इस हमले में शामिल परिवार के कुछ सदस्यों को हिरासत में लिया गया है और पूछताछ जारी है, जबकि जीवन और जौहर सिंह फरार हैं। पुलिस की टीम आरोपियों की तलाश में जुट गई है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING