तुलसी को दीपक लगाते हैं, तो जरूर याद रखें ये 3 बातें...

हिन्दू धर्म में तुलसी को बेहद पवित्र स्थान दिया गया है और देवी लक्ष्मी का स्वरुप मानकर इसकी पूजा की जाती है। सुबह तुलसी को जल चढ़ाना एवं शाम के समय तुलसी को दीपक लगाना, हिन्दू धर्म की परंपरा है। अगर आप भी तुलसी को दीपक लगाते हैं तो आपको ये बात जरूर जान लेनी चाहिए - 
 
1 तुलसी को दीया लगाने से पहले अक्षत का आसन जरूर बनाएं और उस आसन पर अपनी श्रद्धानुसार घी या तेल का दीपक जलाएं। ऐसा माना जाता है कि मां लक्ष्मी अक्षत का आसन ही ग्रहण करती हैं, जब तक आप आसन नहीं लगाते, वे वहां विराजमान नहीं होती।
 
2 अक्षत को शुद्धता का प्रतीक माना जाता है, अत: चावल का प्रयोग करने से दरिद्रता दूर होती है और मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है।
 
3 अक्षत के बगैर किसी भी प्रकार की पूजा को अधूरा माना जाता है। इसलिए तुलसी को दीपके लगाते समय अगर आप चावल का आसन नहीं लगाते, तो यह आराधना भी अधूरी मानी जाती है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING