सर्वार्थ सिद्धि और पारिजात योग में मनेगी मकर संक्रांति

* मकर संक्राति 2018 : बन रहे हैं 2 शुभ और लाभदायक योग...   
 
इस वर्ष मकर संक्रांति रविवार, 14 जनवरी को मनाई जाएगी। ऐसा कई बार हुआ है कि मकर संक्रांति को लेकर पंचांग भेद हैं। कुछ पंचांग में सूर्य का राशि परिवर्तन 14 जनवरी की दोपहर 2 बजे के बाद होगा, जबकि कुछ पंचांग में रात 8 बजे बाद सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। 
 
परंतु सिद्ध पंचांग में 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाना श्रेष्ठ बताया गया है। 14 जनवरी को न सिर्फ सूर्य उत्तरायण होगा, अपितु सर्वार्थ सिद्धि और पारिजात योग भी बन रहा है। 14 जनवरी रविवार की दोपहर से सर्वार्थ सिद्धि योग शुरू होगा। इस योग में किए शुभ काम सिद्ध हो जाते हैं। इसके साथ ही 14 जनवरी को त्रयोदशी तिथि में गुरु और मंगल ग्रह तुला राशि में एक साथ रहेंगे, जिससे पारिजात योग बनेगा।
 
ये योग शुभ और मंगलकारी माने जाते हैं। इस योग के असर कई जातकों को विशेष लाभ होने वाला है।
 
सबसे महत्वपूर्ण बात है कि वर्तमान में सूर्य के धनु राशि में होने से सभी शुभ काम वर्जित हैं, लेकिन सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही सभी मांगलिक कार्य किए जा सकेंगे। मकर संक्रांति से खरमास समाप्त हो जाएगा। 

ALSO READ: क्या है मकर संक्रांति का पुण्यकाल, कब करें दान, पढ़ें राशियों पर असर

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
अपने सपनों के जीवनसंगी को ढूँढिये भारत मैट्रिमोनी पर - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन !

LOADING