क्या आपका बर्थ डे दिसंबर में है, जानिए कैसा है आपका स्वभाव...

* आलसी किस्म के होते हैं दिसंबर में जन्मे युवा
 
आपका जन्म किसी भी साल के दिसंबर माह में हुआ है तो एस्ट्रोलॉजी कहती है आप अव्वल दर्जे के आलसी हैं। आप में खुद को लेकर अजीब किस्म का अभिमान होता है। दूसरों पर निर्भर रहने की प्रवृत्ति रहने के कारण आप हमेशा घर के लोगों से उलझते रहते हैं। घर और बाहर सभी से आपकी अतिरिक्त अपेक्षाएं होती हैं। जबकि आमतौर पर आप किसी की भी अपेक्षा पर खरे नहीं उतरते। परिवार से बेपनाह प्यार करने के बावजूद परिवार से ही शिकायतें होती है। 
 
आपको लगता है पूरी दुनिया आपको नहीं समझ सकती मगर सच तो यह है कि दुनिया के साथ तालमेल बैठाकर चलना आपको नहीं आता। कड़वा लग रहा होगा लेकिन यह सच है कि आप हमेशा यही चाहते हैं कि दूसरे आपको खुद ब खुद समझ जाएं और बिना किसी शर्त के ढेर सारा प्यार भी लूटाए। 
 
ऐसा नहीं है कि आप बुराई की खान है। आप में से जो दिसंबर के सेकंड हाफ में हुए हैं (यानी 15 से 31 के बीच) वे कमाल के कलाकार और दार्शनिक होते हैं। लेकिन जो 1 से 14 के बीच जन्मे हैं वे आलसी और अकडू होते हैं। उन्हें जीवन में अगर एक बार कोई उपलब्धि मिल जाए तो सारी उम्र उसी से चिपके रहते हैं, आगे बढ़ने की नहीं सोचते।
 
इनको कल्पना लोक में ही विचरण करना पसंद है। यथार्थ से ये लोग कोसों दूर रहते हैं। कुछ दिसंबर वाले हद दर्जे के संवेदनशील होते हैं, इतने कि सामने वाला खीज जाए पर ये अति भावुकता के कारण दूसरों को परेशान करना नहीं छोड़ते। 'घरघुस्सु' इनका दूसरा नाम हो सकता है। उन्नति के कई अवसर ये इसी वजह से गवां देते हैं कि इनसे अपना परिवार नहीं छोड़ा जाता। 
 
इनमें एक विचित्र किस्म का आकर्षण भी होता है। अगर ये लड़के हैं तो 16 की उम्र से ही छैल-छबीले निकलेंगे और अगर लड़की हैं तो गोपनीय रूप से इनके 4-5 अफेयर होंगे। इस माह जन्मे लोगों में कोई एक सामाजिक बुराई अवश्य होती है। शराब, सट्टा या फिर अवैध संबंध। दिसंबर में जन्मे लोगों में महफिल में छा जाने की दक्षता होती है मगर दोहरे चरित्र के होने के कारण हर कोई इस काबिलियत का फायदा नहीं उठा पाते। इनमें जलनशीलता भी होती है। 
 
इस माह में जन्मी लड़कियां बेहद चालाक और कूटनीतिज्ञ होती है। अत्यंत मीठा बोलकर सामने वाले को बुद्धू बना देती हैं। सामान्यत: कम बोलने के कारण पहचानी जाती है लेकिन कम बोलने का मतलब सीधी होना नहीं है। इनको समझना टेढ़ी खीर है। अपने पत्ते वक्त आने पर खोलती है। इनमें असुरक्षा का भाव भी अतिरेक में होता है। अपने काम दूसरों से करवाने में माहिर होती है। 
 
दिसंबर के दूसरे हिस्से में जन्मे युवाओं में अगर थोड़ी भी स्थिरता आ जाए तो दुनिया इनकी योग्यता का लोहा मानेगी। अस्थिर और चंचल प्रवृत्ति के चलते ये लोग सफलता पर ध्यान केन्द्रित नहीं कर पाते हैं। स्वयं को श्रेष्ठ मान बैठते हैं इसलिए चाहते हैं कि चारों तरफ से लोग बस इनकी तारीफें ही करें। दिसंबर में जन्मदिन वाले कई लोग दोनों हाथों से दोस्तों पर धन उड़ाते हैं और उतना ही कमाते भी हैं। इनके पास अनाप-शनाप पैसा होता है। बस, रिश्ते नहीं होते। 
 
यही वजह है कि दिल से बहुत अच्छे होते हुए भी अपनी गलत आदतों के रहते अकेले पड़ जाते हैं। पैसा भरपूर बर्बाद करने के बाद भी इनकी सेविंग का जवाब नहीं। अपने परिवार के प्रति इनकी समर्पण भावना देखने लायक होती है। परिवार के लिए खुद को भी तबाह करने से नहीं चुकते। इन्हें चाहिए कि सेल्फ डिपेंड बने। डरपोक रहेंगे तो प्रगति नहीं कर पाएंगे। 
 
आत्मविश्वास का हाथ थामिए फिर देखिए आपकी पर्सनेलिटी में चार चांद लग जाएंगे। अपनी कला को निखारे। नौकरी के बजाय बिजनेस करें तो सफल रहेंगे। यूं भी नौकरी करना आपके बस में नहीं। आपको दूसरों से काम करवाने की आदत जो है, इसलिए यह स्वभाव बिजनेस में ही चल सकता है। 
 
फिलहाल, आपको सलाह है कि अपेक्षा ही दुख का कारण है। दूसरों से अपेक्षा करने के बजाय खुद से बड़ी-बड़ी अपेक्षा रखें और कल्पना लोक से बाहर आकर उन्हें पूरा करें। 
 
लकी नंबर : 1, 3, 8
 
लकी कलर : येलो के हर शेड्स, ब्राउन, रेड, परपल 
 
लकी डे : संडे, सेटरडे, वेडनसडे
 
लकी स्टोन : पन्ना और मोती
 
सुझाव : मछलियों को आटा खिलाएं और किसी मंदिर में धार्मिक पुस्तकें दान करें। 
 

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें!
LOADING